लूट कांड का खुलासा,हथियार संग अपराधी गिरफ्तार

1268
एसडीपीओ ने किया खुलासा,अन्य अपराधी भी होंगे गिरफ्तार
सहरसा@राजा कुमार
सहरसा : सहरसा पुलिस को बड़ी कामयाबी हासिल हुई है ।पुलिस ने लूटकांड के मामले में दो शातिर अपराधी को एक देसी कट्टा,चार जिंदा कारतूस और लूट की पल्सर बाईक के साथ गिरफ्तार किया है ।
प्राप्त जानकारी के अनुसार बीते 9 जनवरी को सहरसा-लोकहा पथ पर मेनहा एवं खोनहा के बीच ईंट भट्ठा के सामने हथियार बंद अपराधियों ने लूट की घटना को अंजाम दिया था ।लुटेरों ने बेगूसराय जिला निवासी माइक्रोफाइनेंस कंपनी (एल एंड टी) के कर्मी सुजीत कुमार से उस समय लूटपाट की थी,जब वे बिहरा थाना के बिजलपुर से सहरसा लौट रहे थे ।मेनहा-खोनहा के बीच ईंट भट्ठा के पास जैसे ही वे पहुँचे कि दो बाईक पर सवार पांच अपराधी जो हथियार से लैस होकर पहले से ही घात लगाये खड़े थे,उन अपराधियों ने कंपनी के कर्मी को घेर लिया और हवाई फायरिंग कर जान मारने की धमकी देते हुए और हथियार सटाकर 2 लाख 40 हजार नकदी,मोबाइल सहित अन्य सामान लूट लिए ।इसके बाद अपराधी हवा में हथियार लहराते हुए भाग निकले ।
घटना की जानकारी पीड़ित द्वारा बिहरा पुलिस को दी गयी थी ।पुलिस घटनास्थल पर पहुंची थी और इस मामले की गहरी तफ्तीश जारी थी ।पुलिस ने आज रविवार के अहले सुबह इस कांड को अंजाम देने वाले दो शातिर लुटेरों को  गिरफ्तार करने में सफलता हासिल की ।
आज अहले सुबह बिहरा थाना कांड संख्या 06/2019 के वादी सुजीत कुमार से लुटे गए मोबाइल के सी.डी.आर के आधार पर बिहरा थाना के पदमपुर गाँव के पप्पू यादव के घर पर छापेमारी की गई जिसमें पप्पू यादव के तकिया के नीचे से एक देसी कट्टा और चार जिंदा कारतूस बरामद किया गया ।अपने स्वीकारोक्ति  बयान में पप्पू कुमार ने रामकुमार यादव के इस कांड में सलिप्त होने की बात बताई ।इस बयान के आधार पर पुलिस ने बिहरा थाना के सत्तर गांव के छिपा टोला से  रामकुमार यादव को भी गिरफ्तार कर लिया गया है ।राम कुमार यादव के यहाँ से लूट की पल्सर मोटरसाइकिल और दो मोबाइल बरामद किया गया है ।दोनों लुटेरों को कोर्ट में पेशी के बाद जेल भेज दिया गया है ।अभी इस मामले में तीन और अपराधी गिरफ्त से बाहर हैं,जो पुलिस के लिए किसी आफत से कम नहीं है ।लूट की राशि की बरामदगी भी अभीतक नहीं हो सकी है ।
आज दोपहर बाद सदर एसडीपीओ प्रभाकर तिवारी ने बिहरा थाना में दोनों अपराधियों को लेकर प्रेस कॉन्फेंस किया ।दोनों अपराधियों की गिरफ्तारी बिहरा थाना के एसआई रसाल भूषण,एसआई सत्येंद्र सिंह और एसआई देवराज गिरी के नेतृत्व में हुई ।एसडीपीओ प्रभाकर तिवारी ने पुलिस के लिए इसे बड़ी कामयाबी बताया लेकिन शेष बचे तीन अपराधियों के नाम का खुलासा नहीं किया ।इस दौरान बिहरा थानाध्यक्ष रणवीर कुमार भी मौजूद थे।