मधुबनी – पैडमेन की भूमिका में नजर आ रही लड़कियां

पैडमेन की भूमिका में नजर आ रही संस्था की लड़कियां

फुलहर महादलित बस्ती में मुखिया वनारसी देवी की अध्यक्षता में तो विशौल में गुड़िया कुमारी के नेतृत्व में हुआ सैनेटरी पैड जागरूकता कार्यक्रम 

हरलाखी से मनोज झा की रिपोर्ट
बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ की तर्ज पर संचालित जागरूकता अभियान संस्था गंगौर की लड़कियां इन दिनों पैडमेन की भूमिका में नजर आ रही है। गांव में पिछड़े वर्ग की लड़कियां व महिलाओं को सैनेटरी पैड के इस्तेमाल पर लगातार अभियान चलाकर जागरूक कर रही है। इस दौरान शुक्रवार को फुलहर महादलित बस्ती में मुखिया वनारसी देवी की अध्यक्षता में गांव की लड़कियां व महिलाओं को संचालिका बिट्टू कुमारी मिश्रा व हेमा कुमारी सैनेटरी पैड के इस्तेमाल किये जाने पर जागरूक किया। इसके बाद विशौल गांव के भी महादलित बस्ती में संस्था के लड़कियों ने गुड़िया कुमारी के नेतृत्व में जागरूकता अभियान चलाया। जानकारी देते हुए संचालिका बिट्टू कुमारी मिश्रा ने बताया कि आज अधिकांश महिलाएं बीमार हो रही है। जिसका वजह कही न कही महिनावारी के समय पैड के इस्तेमाल नहीं किया जाना है। महादलित बस्ती के अधिकांश महिलाएं ख़राब कपड़ो का इस्तेमाल करती है। जिसके संक्रमण से महिलाएं कई तरह के बीमारियों का शिकार हो रही है। इसलिए हम लड़कियां सुरक्षित व स्वस्थ समाज की परिकल्पना करते हुए फुलहर और विशौल गांव के महादलित टोल में जागरूकता अभियान चलाया। इस अभियान से प्रेरित होकर महिलाएं पैड के इस्तेमाल पर सहमति जताते हुए आगे आ रही है। यह अभियान हम निरंतर जारी रखते हुए महादलित बस्ती को चिन्हित कर महिलाओं को प्रेरित करने का काम करेंगे। विशौल महादलित बस्ती में संस्था की शांति कुमारी व गिरजा कुमारी बच्चों को शिक्षा से जोड़ने को लेकर फ्री ट्यूशन चलाएगी और शिक्षा का अलख जगाएगी। मौके पर अंचला कुमारी, अंशु कुमारी, स्मिता कुमारी, रेखा कुमारी समेत दर्जनों महिलाएं मौजूद थी।