मधुबनी – हमारी सरकार बनी तो ग्रामरक्षा दल के समस्या का करेंगे निदान : डा. शकील अहमद

हमारी सरकार बनी तो ग्रामरक्षा दल के समस्या का करेंगे निदान : डा. शकील अहमद

उमगांव में आयोजित ग्रामरक्षा दल के कार्यक्रम को भारत सरकार के पूर्व मंत्री डा. शकील अहमद ने किया शिरकत

हरलाखी से मनोज झा की रिपोर्ट 

आज वर्तमान सरकार के रवैये से कर्मचारी वर्ग में निराशा है। बार बार अपनी आवाज़ बुलंद करने के बाद भी लोगों की सुध नहीं लिया जाना दुःखद है। बिहार में सरकार आने या सरकार में भागीदारी होने पर कांग्रेस पार्टी ग्राम रक्षा दलों की समस्याओं का निदान करेगी। जिस तरह बॉर्डर पर फोर्स गश्ती करते है व सीमा क्षेत्र के लोग चैन से सोते है। उसी तरह गांव में ग्राम रक्षा दलों के सदस्यों ने रात्रि गश्ती करते है तथा समाज के लोग चैन से सोते है। उक्त बातें ग्रामरक्षा दल के कार्यक्रम को संबोधित करते हुए भारत सरकार के पूर्व मंत्री सह कांग्रेस के राष्ट्रीय प्रवक्ता डा. शकील अहमद ने कही। वे शनिवार को हरलाखी के उमगांव में बिहार ग्राम रक्षा दलों की प्रदेश स्तरीय बैठक को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि ग्राम रक्षा दल के लोग पूरे निःस्वार्थ से समाज की सेवा में लगे रहते है। अपने घर परिवार बच्चे को छोड़कर समाज की सुरक्षा करते है। लेकिन सरकार ने इनके बारे में किसी तरह का विचार भी नही किया है। उन्होंने सभी सदस्यों से अपने अपने क्षेत्र के विधायकों से बिहार विधानसभा में भी आवाज उठाने की सुझाव देते हुए कहा कि कांग्रेस के विधायक व एमएलसी ग्राम रक्षा दलों की मांग को सदन में जोर शोर से उठाने का कार्य करेगा। कार्यक्रम में कांग्रेस के प्रदेश सचिव मो शब्बीर अहमद के द्वारा सभी ग्राम रक्षा दल के सदस्यों के बीच टॉर्च का वितरण भी किया। बताते चले कि प्रखंड मुख्यालय उमगांव स्थित कोठी पर ग्रामरक्षा दल के द्वारा समारोह का आयोजन किया गया। समारोह का उद्घाटन भारत सरकार के पूर्व मंत्री डा. शकील अहमद ने किया। कार्यक्रम की अध्यक्षता जिला उपाध्यक्ष धर्मेन्द्र दास ने किया। जिला उपाध्यक्ष धर्मेन्द्र दास ने कहा कि हम अपनी मांग को लेकर 18 जनवरी को दरभंगा प्रमंडल के आयुक्त के समीप धरना प्रदर्शन करेंगे। मौके पर प्रांतीय अध्यक्ष सिकंदर पासवान, महामंत्री विजय साह, उप प्रवक्ता अभिनंदन कुमार, राकेश पासवान, रामनारायण साह, राजा गुप्ता, रामशरण राम, राकेश चौधरी, मनोज चौधरी, सुरेंद्र कुमार, राकेश कुशवाहा, कंचन, मुकेश, संतोष, सत्येंद्र, शलेन्द्र कुमार समेत समस्तीपुर, वेगुसराय, खगड़िया, भागलपुर, मुंगेर समेत अन्य सदस्य मौजूद थे।