उत्कृष्ट कलाकारों के चयन हेतु दो दिवसीय गीत-नृत्य उत्सव प्रारंभ

88

कलाकारों को सामने लाने का अच्छा प्लेटफार्म

सहरसा : दो दिवसीय गीत-नृत्य उत्सव का कला भवन में शुरू हुआ ।जिले के उत्कृष्ट कलाकारों के चयन के लिए आयोजित कार्यक्रम का उदघाटन अधिकारियों द्वारा दीप प्रज्वलित कर किया गया।इस मौके पर अपर समाहर्ता धीरेंद्र कुमार झा ने कहा कि इस उत्सव का प्रयोजन जिले में छुपी हुई प्रतिभा को सबके सामने लाना है। दो दिन में एकल लोक नृत्य, समूह लोक नृत्य, शास्त्रीय नृत्य (कत्थक), शास्त्रीय गायन, एकल लोक गायन आदि विधाओं में प्रतियोगिता आयोजित की जाएगी। सभी विधाओं में सर्वोत्कृष्ट प्रदर्शन करने वाले प्रतिभागियों की सूची राज्य सरकार को भेजी जाएगी। ऐसे कलाकारों को संभव है राज्यस्तरीय कार्यक्रम तथा राष्ट्रीय कार्यक्रम में अपनी कला का प्रदर्शन करने का मौका मिले। आज लोक नृत्य एवं शास्त्रीय नृत्य विधा की प्रतियोगिता हुई। चयन के लिए निष्पक्ष निर्णायक मंडल का गठन किया गया है। उप विकास आयुक्त राजेश कुमार सिंह ने कहा कि सरकार का यह बेहतरीन निर्णय है। छुपे कलाकारों को सामने लाने का अच्छा प्लेटफार्म प्रदान किया गया है ताकि सहरसा जिला के कलाकार राज्यस्तर एवं राष्ट्रीय स्तर पर अपनी कला का प्रदर्षन कर जिले का नाम रौशन

कर सकें। कार्यक्रम की उद्घोषणा अनुमंडलीय लोक शिकायत निवारण पदाधिकारी ने की ।इस मौके पर ओएसडी अनिल पांडेय,मुक्तेश्वर सिंह मुकेश,गौतम सिंह सहित अन्य मौजूद रहे ।