जन्म व मृत्यु पंजीकरण पर कार्यशाला आयोजित

1153
ज़िले में 87 प्रतिशत जन्म का पंजीकरण हो रहा :DDC
सहरसा : जिला सांख्यिकी कार्यालय स्थानीय विकास भवन सभा कक्ष में जन्म-मृत्यु पंजीकरण के प्रशिक्षण से संबंधित कार्यशाला का आयोजन किया गया ।कार्यशाला की अध्यक्षता उप विकास आयुक्त राजेश कुमार सिंह ने किया । इस अवसर पर डीआरडीए के निदेशक भी मौजूद रहे ।
इस मौके पर उप विकास आयुक्त ने कहा कि जन्म मृत्यु पंजीकरण की मॉनीटरिंग मुख्य सचिव के स्तर से होती है। विदेश में शिक्षा या अन्य महत्वपूर्ण कार्यों में इसकी जरूरत पड़ती है। जिले में जन्म के पंजीकरण में अच्छी सफलता पायी है। अभी 87 प्रतिशत जन्म का पंजीकरण हो रहा है। इसे हम सब को मिलकर शत प्रतिशत् कर देना है। भारत सरकार मिशन 2020 चला रही है। अर्थात 2020 तक जन्म-मृत्यु का पंजीकरण शत प्रतिशत् कर देना है। उन्होंने कहा कि मृत्यु पंजीकरण में और सुधार की आवश्यकता है। डी.आर.डी.ए. निदेशक ने कहा कि जन्म-मृत्यु के शत प्रतिशत पंजीकरण से योजना बनाने में सरकार को लाभ मिलेगा।
जिला सांख्यिकी पदाधिकारी ने कहा कि हर प्रखंड के एक पंचायत सचिव प्रखंड के जन्म-मृत्यु रजिस्ट्रार होते हैं। इसके अतिरिक्त जिले के सभी पंचायत के पंचायत सचिव अपने पंचायत के रजिस्ट्रार होते हैं। जिले में 1809 आंगनबाड़ी केंद्र संचालित है। आंगनबाड़ी केंद्र की सेविका उप रजिस्ट्रार होती है। सभी प्राथमिक प्रखंड के प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी, सदर अस्पताल के उपाधीक्षक, नगर परिषद/नगर पंचायत के कार्यपालक पदाधिकारी भी जन्म मृत्यु के रजिस्ट्रार होते है।
उन्होंने कहा कि अब पंजीकरण ऑन लाइन हो गया है। उन्होंने सभी बीडीओ से अनुरोध किया कि अपने सभी बैठक में जन्म-मृत्यु के पंजीकरण की चर्चा जरूर करें। उन्होंने कहा कि सभी आंगनबाड़ी सेविका जन्म-मृत्यु के पंजीकरण की सूचना पंचायत सचिव को भी अवश्य दें। सभी सेविका संबंधित सीडीपीओ कार्यालय से जन्म-मृत्यु का ऑल लाईन रजिस्ट्रेशन करा लें। आंगनबाड़ी सेविका को हर जन्म-मृत्यु पंजीकरण के सरकार बीस रूपए की राशि भी देगी। सभी प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी हर माह के प्रसव की जानकारी जिला सांख्यिकी कार्यालय को जरूर दें।
उन्होंने कहा कि 0-20 दिन तक बच्चे के जन्म का रजिस्ट्रेशन निःशुल्क होगा। 21 दिन से 01 माह तक के बच्चे के रजिस्ट्रेशन में 2 रूपए का शुल्क लगेगा। 01 माह से 01 वर्ष तक के बच्चे के रजिस्ट्रेशन में 5 रूपए का शुल्क लगेगा। 01 वर्ष से उपर के बच्चे के रजिस्ट्रेशन में 10 रूपए का शुल्क लगेगा।बैठक में आईसीडीएस,
डीपीओ,सभी बीडीओ,सभी सीडीपीओ मौजूद थे ।