पुलिस ने पुरा किया अपना वादा,खुला पुलिस नाका

888
नाका खुलने से आस-पास सहित मुहल्ले के लोगों में आशा की किरण जगी
सहरसा :सदर थाना के कोसी चौक पर बीते एक दिसम्बर की शाम में युवा व्यवसायी अमित साह की हत्या अपराधियों ने गोली मारकर कर दी थी ।मृतक अमित साह खगड़िया के पिनगरा गाँव के रहने वाले थे,जो अपने फुफेरे बहनोई पंकज साह के यहाँ एक कार्यक्रम में शामिल होने आए थे ।इस मामले में पुलिस ने तीन युवकों को जेल भेजा है और एक की तलाश जारी है।
2 दिसम्बर की सुबह से ही कोसी चौक और कचहरी ढ़ाला को लोगों ने जाम कर दिया और आगजनी कर धरने पर बैठ गए ।आक्रोशित लोगों के बीच सदर एसडीपीओ प्रभाकर तिवारी पहुँचे और उन्होंने धरनार्थियों से वार्ता की ।स्थानीय लोगों ने एसडीपीओ से कहा कि वे सभी चौक-चौराहे पर सीसीटीवी लगवाएं और ड्रेनेज कॉलोनी में पुलिस चौकी खुलवाएं ।एसडीपीओ प्रभाकर तिवारी ने स्थानीय लोगों को पुलिस चौकी अविलम्ब खोलने के साथ-साथ सभी मुख्य चौक-चौराहों पर सीसीटीवी कैमरे का वायदा किया था ।
ड्रेनेज कॉलोनी में शुक्रबार को नाका का विधिवत उद्घाटन हो गया ।सदर एसएचओ आर.के.सिंह की मौजूदगी में नाका का शुभारंभ हुआ ।
इस मौके पर वार्ड संख्यां 12 के पार्षद राजेश कुमार सिंह,वार्ड संख्यां 13 के पार्षद वीरेंद्र
पासवान,जाप नगर अध्यक्ष समीर पाठक,शालिग्राम झा,राजा पासवान,कृष्णा पासवान और डब्लू वर्मा सहित कई अन्य लोग मौजूद थे ।
वार्ड पार्षद राजेश कुमार सिंह ने कहा कि सदर एसडीपीओ प्रभाकर तिवारी अपने वायदे पर खड़े उतरे और उन्होंने नाका खुलवा दिया ।सदर एसएचओ आर.के.सिंह ने कहा कि अभी इस नाका में एक हवलदार जय राम सिंह और तीन जवान सर्वेश्वर यादव,नारायण यादव और मदन  पासवान को तैनात किया गया है ।13 दिसम्बर तक इस नाका में जवानों की संख्यां और बढ़ाई जाएगी ।इस नाका का अभी नामकरण नहीं हुआ है ।सहरसा पुलिस कप्तान राकेश कुमार के निर्देश पर सार्जेंट मेजर अनिल कुमार मल्होत्रा ने इन नाका कर्मियों को कमान दिया है ।
वही जाप नगर अध्यक्ष समीर पाठक ने कहा कि नाका खुलने से आस-पास सहित मुहल्ले के लोगों में आशा की किरण जगी है ।
सहरसा@संकेत सिंह की रिपोर्ट