25 नवंबर को पटना में जुटेंगे देश-विदेश के नामी न्यूरोसाईंटिस्ट

108

दो दिवसीय आवासीय पाठ्यक्रम

पटना :जीएस न्यूरोसाइंस क्लिनिक एंड रिसर्च सेंटर, पटना के सहयोग से न्यूरो इंटरटेवेंशन पर फ़र्स्ट पटना कोर्स ऑन न्यूरो इंटरटेवेंशन का आयोजन किया जा रहा है। यह दो दिवसीय आवासीय पाठ्यक्रम है, जो इसी माह 24 वीं से 25 नवंबर को  पटना में आयोजित किया जाएगा। यह राज्य में  आयोजित होने वाला इस  प्रकार का पहला कोर्स होगा, जो न्यूरोवास्कुलर एम्ब्रीयोलॉजी, एनाटॉमी,इवोल्यूशन और एंडोवास्कुलर रोग से जुड़े कोर्स होगा।

इस कोर्स के लिए देश और विदेश के  न्यूरोसाइंसेज के क्षेत्र में वरिष्ठ चिकित्सकों के अनुभव,  ज्ञान एवं उनके द्वारा किये गए जटिल सर्जरी से संबंधित बातों को बताया जाएगा । भारत और विदेशों के प्रतिनिधियों सहित न्यूरोलॉजिस्ट, न्यूरोसर्जन,न्यूरोइंटरटेरेंस्टिस्ट,न्यूरोपैथोलॉजिस्ट और न्यूरोएनेस्थेसियोलॉजिस्ट भी इस कोर्स के लिए मौजूद होंगे। कार्यक्रम के मुख्य आकर्षण औपचारिक व्याख्यान,इंटरैक्टिव केस चर्चाएं, वीडियो और हैंड ऑन वर्कशॉप के  शैक्षणिक प्रारूप रहेंगे। पाठ्यक्रम की सामग्री बहुत समृद्ध और सूचनात्मक है जिसमें उपस्थित लोगों को डायग्नोस्टिक एवं इंटरवेंशनल न्यूरोरेडियोलॉजी के बारे में सबसे लेटेस्ट ज्ञान प्राप्त होगा। जूनियर एवं सीनियर, दोनों सदस्यों को वैज्ञानिक कार्यक्रम से फायदा होगा।

कार्यक्रम का संचालन देश के प्रसिद्ध डॉ राहुल कुमार (कोर्स डायरेक्टर और कंसल्टेंट एंडोवास्कुलर इंटरवेन्शनल न्यूरोलॉजिस्ट, जीएस न्यूरोसाइंस पटना ) के द्वारा किया जाएगा। मालूम हो कि1970 दशक में न्यूरोलॉजी चिकित्सा विकसित हो रहा था,तब  इस क्षेत्र की चिकित्सा  प्रसिद्ध एनाटॉमिस्ट, चिकित्सक और रेडियोलॉजिस्ट ही करते थे,जिन्हें संवहनी  ज्ञान के साथ  तंत्रिका तंत्र और शरीर रचना का भी ज्ञान होता था। जैसे-जैसे रिसर्च बढ़ता और विकसित होता गया और अधिक से अधिक ध्यान  हार्डवेयर,इक्युपमेंट  के तकनीक में  दिया गया। नतीजा ये था कि न्यूरो लोजी के क्षेत्र में नई क्रांति आई और  बहुत सारी मस्तिष्क संबंधित बीमारियों में  बिना सर्जरी  सिर्फ तकनीक  तकनीक की मदद से ठीक करना सीखा ।

वहीं, डॉ राहुल कुमार ने बताया कि इस तरह के  पाठ्यक्रम के माध्यम से वर्तमान में दुनिया भर में आयोजित बैठकों की विशाल बसब्सट्रेट पर ध्यान केंद्रित करती है। इस तरह के कार्यक्रम से कार्यक्रम में आये प्रतिभागियों को  इस दो दिवसीय आवासीय पाठ्यक्रम में विषयों के पूरे तालमेल पर व्याख्यान देने वाले देश भर के विशेषज्ञों के साथ न्यूरोइंटरवेन्शन के क्षेत्र में अपने ज्ञान को और बेहतर बनाने के लिए एक मंच प्रदान करेगा।