भामाशाह विचार मंच ने श्रेया को किया सम्मानित

Kunal Kishor
kunal@koshixpress.com
243
अभिभावक रूढि़वादी सोच के चलते बेटा-बेटी में फर्क समझते है
सहरसा : भामाशाह विचार मंच सहरसा के द्वारा दशमी कक्षा में जिला टॉपर एवं सूबे में 24 वां स्थान लाने वाली सपटियाही निवासी महेन्द्र भगत की पुत्री श्रेया कुमारी को उज्जवल भविष्य की शुभकामनाएं देते हुए उसके परिजन को सम्मानित किया गया।
 सहरसा गर्ल्स स्कूल की छात्रा श्रेया कुमारी ने वर्ष 18 में ज़िले में सबसे अधिक अंक लाकर मैट्रिक की परीक्षा में ज़िले का नाम रौशन किया।
मंच के संस्थापक कुमारअमरज्योति, संयोजक शशांक सुमन विक्की, युवा राजद नेता हन्नी चौधरी ,सुभाष जायसवाल, शक्ति गुप्ता,विक्रम पंजीयार, रंजन साह ने
छात्रा के घर सपटियाही पहुंच कर आशीर्वाद दिया, साथ ही मंच द्वारा हर सभंव मदद का भरोसा दिया । विचार मंच के संस्थापक कुमार अमर ज्योति ने श्रेया की 11 एवं12 वीं की पढ़ाई के लिए प्रगति क्लासेज द्वारा स्कालरशिप देने के लिए प्रगति  क्लासेज के संस्थापक नंदन कुमार को बधाई दी एवं पंचवटी चौक स्थित SMC Computer के राजीव रंजन द्वारा एक साल का कम्प्यूटर कोर्स अपने संस्थान के तरफ से मुफ्त करवाने पर उनका आभार जताया ।
मौके पर वक्ताओं ने शिक्षा के क्षेत्र में भी निरतर बेटियों द्वारा बेटों से आगे रहने पर भविष्य के लिए अच्छे संकेत बताया।
कुमार अमर ज्योति ने कहा कि आज किसी क्षेत्र में बेटी-बेटों से कम नहीं है तो क्यों अभिभावक रूढि़वादी सोच के चलते बेटा-बेटी में फर्क समझते है। आज बेटी भी बेटों की तरह हर क्षेत्र में निरतर आगे बढ़ रही है। बेटी भी बेटों की तरह माता-पिता के बुढ़ापे की लाठी बन रही है। माता-पिता को चाहिए कि वो बेटों की तरह बेटियों पर भी गर्व करे। आज खेल, शिक्षा, राजनीति सहित सभी क्षेत्रों में बेटी निरतर आगे रही है जो देश के लिए अच्छा संकेत है।