प्यार में फंसा लड़की ने ऐंठे 11 करोड़,पति के साथ गिरफ्तार

Kunal Kishor
kunal@koshixpress.com
4797

चार साल पहले नौकरी के लिए गया था बनगांव से पटना 

पटना/मधेपुरा (कुमार आशीष) : महज चार साल पहले गांव में बढ़ई का काम करने वाले पिता सहदेव मिस्त्री का हाथ बंटाने वाला सुमन नौकरी करने की लालसा लिये पटना पहुंच जाता है. इस बीच गांव के लोगों की स्मृति से सुमन भी गायब ही रहता है. सुमन पटना से कभी गांव वापस आता भी है तो किसी को जानकारी नहीं मिलती है. अचानक एक साल पहले महंगी गाड़ियों के काफिला के साथ गांव में आया सुमन का हैसियत देख लोग चौक गये. उसकी राजसी ठाठ-बाट को देख कर हर कोई भौंचक रह गया. हर कोई इतने कम समय में अमीर बन चुके सुमन के धंधे के बारे में जानकारी लेना चाहता था. शायद इसी उम्मीद में गांव के दर्जनों बेरोजगार लड़के सुमन के दोस्त भी बन गये. रोजाना सुबह व शाम में सुमन का अपने घर पर दरबार सजने लगा. अब तो गांव के उन लड़कों के भी अच्छे दिन आ गये थे. सभी सुमन के साथ महंगी-महंगी गाड़ियों में सफर करने लगे. ब्रांडेड कपड़े व एसेसरिज सुमन के शौक बन गये थे.

बोलते थे लोग, जरूर कोई गलत काम करता होगा

गांव में सुमन के रहन सहन को देख लोगों के बीच अक्सर चर्चा होती थी कि सुमन जरूर कोई गलत या अनैतिक कार्य कर रहा है. बनगांव में इस बात को लेकर अक्सर लोग एक दूसरे से बहस करते मिलते थे. जैसे सुमन को कोई कुबेर का खजाना हाथ लग गया हो. लोगों का पहले से अनुमान था कि सुमन नशा या आर्म्स का कारोबार करता था. गांव में यहां तक लोग कहते थे कि सूबे के एक बड़े-बड़े राजनीतिक दलों के लोगों का गलत काम का वीडियो भी सुमन के पास मौजूद है. जिसे वह अपनी पत्नी की मदद से बनाया था.

साल भर पहले खरीदा था डेढ़ करोड़ की जमीन

गांव के लोगों ने बताया कि साल भर पहले सुमन ने स्वयं व अपने एक निकट संबंधी के नाम पर बनगांव चौक पर बड़ा भूखंड खरीदा था. जिसकी कीमत करोड़ों रुपये में अदा की गयी है. इसके अलावा गांव में होने वाले सामुहिक आयोजनों में इन दिनों बड़े दाता के रुप में सुमन का ही नाम पहले आता था. जबकि, बनगांव में सौ से अधिक आइएएस व आइपीएस के घर है. इसके बावजूद कम समय में धन का साम्राज्य खड़ा कर चुका सुमन की हुई गिरफ्तारी व उसके ठगी के किस्से लोग एक दूसरे से साझा कर रहे है. वैसे जानकारों की मानें तो एक व्यवसायी से ही ठगी का मामला सामने आया है जबकि कई ऐसे भी लोग हैं, जो बदनामी के भय से चुप हैं. चर्चाओं पर यकीन करें तो एक दर्जन से अधिक बड़े लोगों को सुमन व प्रियंका ने ब्लैकमेल कर करोड़ों की संपत्ति अर्जित की है.

गिरफ्तारी की खबर आने के बाद होती रही चर्चा

सहरसा का बनगांव पूरे देश में चर्चित गांव है. गांव में सौ से अधिक आइएएस, आइपीएस हैं. इतना ही नहीं कई उच्च पदों पर आसीन हैं. लोग इस बात से भी आश्चर्यचकित थे कि जो एक सामान्य परिवार का है, आखिर इतना पैसा कहां से लाता है. मंगलवार को जैसे ही उसकी गिरफ्तारी की खबर मिली, गांव में यह बात आग की तरह फैल गयी. हर कोई सुमन के बारे में ही जानना चाहता था. सोशल मीडिया पर भी खबर वायरल हो गयी. वैसे, बुजुर्गों का एक ही बात कहना था कि गलत गलत ही होता है. एक न एक दिन तो उसे सामने आना ही है.

क्या है पूरा मामला…..

हनी ट्रैपिंग मामले में दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच की टीम ने पटना पुलिस के सहयोग से मंगलवार की रात पटना के पत्रकार नगर थाना क्षेत्र के साकेतपुरी से एक दंपती को गिरफ्तार किया है. दिल्ली पुलिस ने रात में ही अदालत के समक्ष गिरफ्तार दंपती को पेश कर ट्रांजिट रिमांड पर ले लिया और अपने साथ दिल्ली ले गयी. मालूम हो कि दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच की टीम पिछले तीन दिनों से पटना में कैंप कर रही थी.

बताया जाता है कि दिल्ली के व्यवसायी पीएन विजय को एक महिला ने सोशल मीडिया फेसबुक के जरिये प्रेमजाल में फंसा कर करीब 11 करोड़ रुपये ठग लिये. व्यवसायी ने मामले की शिकायत जून माह में ही दिल्ली में दर्ज करायी थी. इसके बाद दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच की टीम पटना आकर आरोपितों की गिरफ्तारी के लिए कैंप कर रही थी. मंगलवार की रात को पटना पुलिस के सहयोग से छापेमारी कर दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच की टीम ने आरोपित दंपती को गिरफ्तार कर लिया. दिल्ली पुलिस ने बताया कि ट्रांजिट रिमांड में लिये जाने के बाद दोनों को दिल्ली ले जाकर उनसे पूछताछ की जायेगी. साथ ही इनके बैंक खातों की भी जांच की करायी जायेगी.

पत्रकार नगर थाने ने बताया कि दिल्ली पुलिस का मामला था. उन्होंने ज्यादा जानकारी नहीं दी. मामला करीब 11 करोड़ रुपये की ठगी का था. दिल्ली पुलिस दोनों को गिरफ्तार कर साथ ले गयी. वहीं मीडिया की खबरों के मुताबिक, दिल्ली पुलिस ने बताया है कि करीब दो साल पहले प्रियंका ने दिल्ली के रियल स्टेट कारोबारी पीएन विजय से फेसबुक के जरिये दोस्ती कर ली. इसके बाद दोनों के बीच चैटिंग शुरू हो गयी. दोनों के बीच वीडियो चैट भी अक्सर होती थी. देखते ही देखते प्रियंका ने व्यवसायी को अपने मोहपाश में फंसा लिया. प्रियंका ने बीमारी का बहाना बनाते हुए व्यवसायी से रुपये वसूलती रही. रुपये देते-देते जब व्यवसायी परेशान होकर और रुपये देने से इनकार कर दिया, तो प्रियंका ने उन्हें दोनों के बीच हुई चैटिंग पुलिस के हवाले कर कानूनी कार्रवाई करने की धमकी दी. इसके बाद व्यवसायी ने कानूनी कार्रवाई करने का फैसला किया.

पढ़ी-लिखी है प्रियंका, मोटी रकम वसूलने के बाद प्रेमी से कर ली शादी

प्रियंका एक पढ़ी-लिखी लड़की है. उसने बीएससी किया है. उसका पति सुमन बीटेक कर रहा है. शादी करने के पहले से ही प्रियंका और सुमन के बीच प्रेम-प्रसंग चल रहा था. वह सुमन की गर्लफ्रेंड थी. वर्ष 2016 में दिल्ली के व्यवसायी को फंसा कर मोटी रकम वसूलने के बाद दोनों ने वर्ष 2017 में शादी कर ली. प्रियंका ने अपनी शादी की बात व्यवसायी को नहीं दी और रुपये वसूलती रही. दोनों ने व्यवसायी को करीब दर्जन भर बैंक अकाउंट के नंबर दिये थे, जिनमें व्यवसायी से पैसे जमा करवाये जाते थे. वर्तमान में दोनों पटना स्थित हनुमाननगर के साकेतपुरी स्थित रघुहरी कॉम्पलेक्स के फ्लैट नंबर 404 में रह रहे थे.

(श्रोत : प्रभात ख़बर)