नीट में सुरभि ने मारी बाजी,सहरसा का नाम किया रोशन !

3119

छोटे शहरों के छात्रों का भी जलवा कायम रहा।

सहरसा : केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड ने नेशनल एलिजिबिलिटी कम एंट्रेंस टेस्ट(नीट) के परिणाम आने के साथ ही करीब 13 लाख छात्रों का भविष्य तय हो गया है।नीट 2018 की परीक्षा में सहरसा जैसे छोटे शहरों के छात्रों का भी जलवा कायम रहा।

नीट 2018 की परीक्षा में सहरसा सदर अस्पताल में पदस्थापित फर्मासिस्ट मनोहर मिश्रा की पुत्री सुरभि मिश्रा ने पहली बार मे ही अनारक्षित श्रेणी(5781 रैंक),ओवर ऑल(9172 रैंक)सफलता प्राप्त कर जिले सहित परिजनों का नाम रौशन किया है।इस सफलता से उनके परिवार में खुशी की लहर दौड़ गयी है।
वही सुरभि ने इस सफलता का श्रेय अपने मां रीना देवी,पिता मनोहर मिश्रा, बड़ी बहन डॉ० सुरुचि मिश्रा एवं अपने भाई अभिषेक मिश्रा को बताया।
सुरभि की इस सफलता पर उसके पिता मनोहर मिश्रा ने बताया कि सुरभि बचपन से ही पढ़ने में मेघावी रही।प्रारम्भिक शिक्षा सहरसा के निजी विद्यायल एवं कॉलेज की शिक्षा स्थानीय आर झा कॉलेज से प्राप्त की और प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी के लिए कोटा चली गयी ।श्री मिश्रा ने कहा कि बेटी इस प्रकार उन्हें यह तोहफा देगी यह कल्पना भी नहीं किये थे।
सुरभि ने बताया कि बचपन से ही चिकित्सा क्षेत्र में जाने की इच्छा थी। कारण इस क्षेत्र में रहकर सेवा भाव से अपने काम को अंजाम दे सकते है।उन्होंने कहा कि सहरसा जैसे पिछड़े इलाके में चिकित्सकों की काफी कमी है।डॉ बनने के बाद इसी क्षेत्र में सेवा देने की कोशिश करेंगे।