फेसबूक पर पोस्ट करना पत्रकार को पड़ा महंगा,पूर्व विधायक ने सहयोगी संग धो डाला

Brajesh Bharti
barjeshkb@gmail.com
5090

👉 समाचार संकलन के दौरान भाजपा के पूर्व विधायक ने किया पत्रकार पर हमला

👉 बाल-बाल बचे समकालीन तापमान पत्रिका के पत्रकार तेजस्वी ठाकुर

👉 सरकार और प्रशासन से अभिलंब सुरक्षा की लगाई गुहार, दोनो ओर से मामला दर्ज

सहरसा : ✍ ब्रजेश भारती की एक्सक्लूसिव रिपोर्ट :-

सोसल मीडिया पर खबर लिखने से बौखलायै सुसासन बाबू के सहयोगी दल भाजपा के एक पूर्व विधायक की काफी बुरा लगा है। खबर से तिलमिलाए भाजपा के सहरसा से पूर्व विधायक आलोक रंजन ने तापमान पत्रिका के पत्रकार तेजस्वी_ठाकुर के साथ गाली-गलौज और जानलेवा हमला का प्रयास किया है।
घटना स्थल सहरसा शहर के शंकर चौक से लेकर डी बी रोड में दिनदहाड़े भाजपा के पूर्व विधायक की दबंगई का शिकार हुआ पत्रकार है। पत्रकार तेजस्वी ने सदर थाने में लिखित आवेदन देकर पूर्व विधायक व अन्य पर मामला दर्ज करवाया हैं।

तेजस्वी ठाकुर ने बताया कि पूर्व विधायक की दबंगई सर चढ़कर बोल रही थी ना उन्हें कानून का भय था ना प्रशासन की क्योंकि सत्ता में बैठे सरकार और उप मुख्यमंत्री सुशील मोदी के करीबी है पूर्व विधायक आलोक रंजन ( जो आलोक पनीर के नाम से मशहूर है। ) इसी का गुरुर ओर गुमान उनके ऊपर दिख रहा था। वो कहते है कि पूर्व विधायक ने विधायकी कार्यकाल के दौरान जनता कि विकास छोड़ अपने विकास में रहे संलिप्त । अपने कार्यकाल के दौरान आलोक HP पेट्रोल पंप सहित कई नामचीन कंपनियों की एजेंसी अपने नाम किया।

जब पत्रकार कि कलमें जब सच लिखती है तो कड़वा जरूर लगता है लेकिन इतना कड़वा लगा की पूर्व विधायक अमर्यादित भाषा का उपयोग करते हुए मेरे ऊपर जान लेवा हमला करने का प्रयास किया उनका साथ एक शिक्षक शैलेश झा सहित अन्य लोग दे रहें थे।

वही शिक्षक शैलेश झा ने भी पत्रकार तेजस्वी ठाकुर पर सदर थाने में लिखित आवेदन देकर मामला दर्ज करवाया हैं। दर्ज मामले में कई संगीन आरोप लगाये गये है। पुलिस दोनो मामले की जांच में जुट गई हैं।

(खबर Fir एवं फेसबुक पोस्ट को आधार बना कर लिखा गया है)