गैस सिलेंडर में रिसाव से लगी आग,13 जख्मी,एक बच्चे की मौत !

1195

गुरुवार को सुरेंद्र प्रजापति के भाई का आने वाला तिलक,घर में चल रहा था तैयारी

कैमूर/ रामपुर@बंटी जायसवाल : करमचट थाना क्षेत्र के बरांव गांव में गुरुवार की सुबह लगभग 8:00 बजे सुरेंद्र प्रजापति के घर में खाना बनाने के दौरान गैस सिलेंडर रिसाव होने के कारण आग लग गया. इसमें 12 लोग जख्मी हो गए. जिसका प्राथमिक उपचार के लिए रोहतास के चेनारी के निजी क्लिनिक में लोगों लोगों द्वारा ले जाया गया. जहां मरीजो का गंभीर स्थिति देखते हुए डॉक्टरों ने चार लोगों को वाराणसी के लिए रेफर कर दिया गया.

 गंभीर स्थिति वाले जख्मी लोगों का इलाज के लिए भेजा गया वाराणसी

बताया जाता है कि गुरुवार को सुरेंद्र प्रजापति के भाई गुड्डू प्रजापति का तिलक था.  इसमें सुबह में आए लोगों के लिए खाना बनाया जा रहा था. खाना बनाने के दौरान एक सिलेंडर के खत्म होने पर दूसरे गैस सिलेंडर को लगाया जाएगा था. तभी दूसरे गैस सिलेंडर में से रिसाव होने लगा और उसका वाल बाहर निकल गया. इससे सिलेंडर से गैस का तेजी से निकलने लगा. रिसाव होते ही गैस सिलेंडर में आग पकड़ लिया. आग पकड़ते ही लोगों में अफरा तफरी मच गयी. भोजन एक घर में बनाया जा रहा था. आग लगने पर एक व्यक्ति ने उस सिलेंडर को बाहर आंगन में फेंक दिया गया. आंगन में उस समय कुछ बच्चे खेल रहे थे तो कुछ लोग बैठे हुए थे. जैसे ही आंगन में सिलेंडर आग लगा हुआ आया तो वह सभी लोगों पर आग की तरह बरस पड़ा. आग का फुहारा  जहां जहां जो जो व्यक्ति या बच्चे बैठे और खेल रहे थे. उनलोगों पर आग का आंच पड़ा तो वे लोग जख्मी हो गये. कुछ लोग आग के चपेट में आने से बुरी तरह जख्मी हो गये. आग लगने के दौरान घर में अफरा तफरी मच गयी थी.

वाराणसी ले जाते समय जाम में फंस जाने के कारण चंदौली के पास तीन वर्षीय अमित ने तोड़ा दम

जब  ग्रामीणों को जानकारी हुई तो ग्रामीण घर में पहुंचकर आग बुझाने की कोशिश करने लगे कड़ी मशक्कत के बाद आग लगे गैस सिलेंडर पर राख, धूल-मिट्टी डाल कर बुझाया गया. आग लगने की सूचना मिलते ही पूरे गाँव में कोहराम मच गया. ग्रामीणों की मदद से सभी जख्मी लोगों को निजी वाहन से होता रोहतास के चेनारी के निजी क्लिनिक में ले जाकर भर्ती कराया. जहां डॉक्टरों ने सभी लोगों को भर्ती कर लिया. इसके बाद गंभीर स्थिति देखते हुए 4 लोगों को वाराणसी के लिए रेफर कर दिया. अन्य 7 लोगो का प्राथमिक उपचार निजी क्लिनिक में ही चल रहा है.

आग से जख्मी लोगो का नाम इस प्रकार

  • दीपक कुमार (6 वर्ष) पिता – सुभाष प्रजापति, गाँव मल्हीपुर
  • मीरा देवी (40 वर्ष) पति सुभाष प्रजापति गाँव मल्हीपु
  •  रिया कुमारी(4 वर्ष) पिता संतोष प्रजापति गाँव- बरांव
  • शुभम कुमार(7 वर्ष)पिता बिहारी प्रजापति, गाँव घटांव
  • सुजीत कुमार (4वर्ष) पिता संजय प्रजापति गाँव भगवानपुर
  • प्रीति कुमारी(5 वर्ष) पिता संजय प्रजापति गांव भगवानपुर
  • सोनी देवी(28 वर्ष) पति हरिश्चंद्र प्रजापति,गाँव नौहट्टा
  • संतोष कुमार(35 वर्ष) पिता कंकु प्रजापति गांव बरांव
  • सविता देवी (40वर्ष)पति सुरेंद्र प्रजापति गाँव बरांव

गंभीर स्थिति वाले रेफर लोग का नाम

  • कौशल्या देवी( 55 वर्ष) पति शिव शंकर प्रजापति गाँव नौहट्टा
  • सुनीता देवी(28वर्ष) पति संजय प्रजापति गाँव भगवानपुर
  • सुरेंद्र प्रजापति(45 वर्ष) पिता कंकू प्रजापति गाँव बरांव
  • अमित कुमार(3 वर्ष) पिता सुरेंद्र प्रजापति बरांव(मौत हो गयी

एनएच 2 की जाम ने ली बच्चे की जान

बरांव में गुरूवार के सुबह लगी आग की घटना में लगभग 1 दर्जन लोग जख्मी हो गये. इसमें चार लोगो को एम्बुलेंस से डॉक्टरो द्वारा गंभीर स्थिति देखते हुए वाराणसी के लिए रेफर किया गया. बताया जाता है कि वाराणसी जाने के दौरान एनएच 2 पर दुर्गावती से लेकर चंदौली तक जाम लगी हुई थी. इसी जाम में गभीर स्थिति वाले एम्बुलेंस में चेनारी से चार लोग भी जा रहे थे.

एम्बुलेंस जाम में घण्टो फंस जाने के कारण चंदौली जाते-जाते बच्चे की मौत हो गयी. उक्त बच्चा सुरेंद्र प्रजापति का 3 वर्षीय पुत्र अमित कुमार बताया जाता है. बाकी तीन अन्य लोग की स्थिति अभी गंभीर बनी हुई है. बताया गया कि इन दिनों एनएच टू पर भयावह जाम लग रहा है. इसी जाम ने बच्चे की जान ले ली. अगर जाम में एम्बुलेंस नहीं फंसा होता तो अमित का जान हॉस्पिटल में समय से पहुँच जाने से बच जाती.