कुलसचिव के आश्वासन पर समाप्त हुआ भू०ना०मंडल वि०वि० छात्रों का आन्दोलन !

876

मधेपुरा : विश्वविद्यालय में ब्याप्त समस्याओं के लिए लगातार 15 दिन से जारी संयुक्त छात्र संगठन का आनिश्चितकालिन आमरण अनशन को विवि प्रशासन के आश्वाशन के बाद समाप्त कर दिया गया है |राज्य छात्र नेताओं और विवि कुलसचिव की मौजूदगी में अनशनकारियों को जूस पिला कर सोमबार को अनशन तोड़वाया गया।koshixpress

संयुक्त छात्र संगठन के द्वारा जारी प्रेस विज्ञप्ति के अनुसार युवा कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष कुमार आशीष व एआईएसफ के राज्य सचिव सुशील कुमार सोमवार को अनशनकारियों की जानकारी लेने बीएनएमयू परिसर पहुंचे। जहाँ घंटों तक चली लम्बी वार्ता के बाद एआईएसफ राज्य सचिव ने कुलपति डॉ विनोद कुमार से फोन पर 30 मिनट तक वार्ता कर अनशनकारियों की गिरती स्वास्थ्य हालत से अवगत कराया, साथ ही बीएनएमयू प्रशासन द्वारा सकारात्मक पहल की बात कही। वार्ता के क्रम में कुलपति ने सभी मांगों पर सकारात्मक प्रयास करने की बात करते हुए बताया कि विभिन्न मांगों पर विवि कार्रवाई कर रहा है, जल्द ही विवि मुख्यालय पहुँच कर उन सभी कार्रवाई से संयुक्त छात्र संगठन को अवगत कराएंगे।

जिसके बाद बीएनएमयू कुलसचिव डॉ केपी सिंह , युवा कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष कुमार आशीष, एआईएसफ के राज्य सचिव सुशील कुमार ने अनशनकारियों छात्र नेताओं की गिरती हालत पर चिंता करते हुए अनशनकारी छात्र नेताओं से अनशन तोड़ने का आग्रह किया। राज्य नेताओ के आश्वासन व् कुलसचिव की मौजूदगी में अनशनकारी छात्र नेता हर्ष वर्द्धन सिंह राठौर व मनीष कुमार को जूस पिला कर अनशन को तोड़वाया गया।koshixpress

अनशन की समाप्ति के बाद कांग्रेस युवा प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि विवि प्रशासन यह समझने की भूल न करे कि आन्दोलनरत छात्र नेताओ का क्षेत्र सिर्फ बीएनएमयू तक ही सिमित है बल्कि यह मामला पुरे राज्य मे चर्चित हो चूका है। राज्य नेताओं ने चेतावनी भरे लहजे में कहा कि अगर जरुरत पड़ी तो राज्य स्तर पर आंदोलन के माध्यम से उढ़ाया जायेगा। वहीँ एआईएसफ के राज्य सचिव ने कहा कि दोनों छात्र नेता ने शांतिपूर्ण तरीके से लगातार दो माह तक आंदोलन कर एक मिसाल कायम किया है। उन्होंने कहा की इस मामले को लेकर मैं राज्य भवन और सरकार से संपर्क कर पहल करने की मांग करेंगे। वहीँ बीएनएमयू के मामले को लेकर सातों जिलो में छात्र संवाद कर एक बड़े आंदोलन का रूप दिया जायेगा।

इस मौके पर प्रो0 अरुण कुमार, वीसी के निजी सचिव शम्भू यादव ,नीरज कुमार प्रदेश प्रवक्ता चुन्नू सिंह, निशांत यादव, गौरव कुमार, सुदीप कुमार, शंभु क्रांति, अनिल कुमार ,संजय क्रांति हिमांशु राज आदि मौजूद थे।