गये थे रोजी रोटी की तलाश में लौटे तो साथ लेकर आए डेंगू व चिकनगुनिया !

1189

पिया गये परदेश लेकर आ रहे डेंगू व चिकनगुनिया जैसे खतरनाक बिमारी का संदेश। परदेश से रोजी रोटी कमा कर घर लौट रहे लोग अपने साथ इस खतरनाक बिमारी की सौगात ला रहे हैं। अनुमंडल क्षेत्र में डेंगू व चिकनगुनिया के मरीज मिले हैं और भी मिलने की संभावना व्यक्त की जा रही चुकि इस समय प्रदेश से मजदुर वर्ग के लोग दशहरा व दिपावली में घर आते है वे अपने साथ इस बिमारी को लेकर आ रहे है।

koshixpresskoshixpress

पिया गये परदेश लेकर आ गये डेंगू व चिकनगुनिया का संदेश

अनुमंडल क्षेत्र में बिमारी से पीड़ीत व्यक्तियों के मिलने का सिलसिला  जारी

सहरसा जिले के सिमरी बख्तियारपुरनगर पंचायत क्षेत्र के एक निजी क्लिनिक में दो लोगो की जांच करवाई गई तो एक को डेंगू व एक को चिकनगुनिया होने की बात सामने आ रही है। जांच में सलखुआ प्रखंड के कोपरिया निवासी विकास कुमार को चिकनगुनिया तो माहखड़ निवासी मो. नजरे इमाम को डेंगू से पीड़ित पाया गया। दोनो लोगो को बेहतर ईलाज के लिये सहरसा रेफर कर दिया गया है। विकास कुमार का कहना है की शरीर के जोड़ो में दर्द के बाद ईलाज करवाया तो बोला गया कि ये बिमारी हो गया है। वही नजरे ईमाम को गत दिनो से बुखार के बाद ईलाज कराया गया। दोनो लोगो के बारे में बताया जाता है कि ये लोग प्रदेश से रोजी रोटी कमा कर घर लोटे है। वही बनमा ईटहरी में भी इस तहर के बिमारी से ग्रस्त मरीज होने की बात कही जा रही है। अगर समय रहते स्थानिय प्रसाशन स्तर पर कोई सार्थक पहल इस ओर नही किया गया तो अन्य प्रदेशों की भांति यहां भी मरीजों की संख्या दिनों दिन बढ़ सकती है।