शिक्षक दिवस की स्कूलों में मची धूम !

1953

संजय कुमार सुमनभारत के पूर्व राष्ट्रपति डा.सर्वपल्ली राधाकृष्णन की जयंती जिले के विभिन्न विद्यालयों में शिक्षक दिवस के रुप में बड़े ही धूमधाम के साथ मनाया गया।इस मौके पर कई विद्यालय में विचार गोष्ठी का भी आयोजन किया गया।koshixpresskoshixpress

मधेपुरा जिले के मध्य विद्यालय चौसा,कन्या मध्य विद्यालय चौसा,जनता उच्च विद्यालय,उत्क्रमित मध्य विद्यालय लक्ष्मीनिया,जीवन ज्योति पब्लिक स्कूल समेत कई विद्यालय में शिक्षक दिवस समारोह का आयोजन किया गया। आयोजित समारोह को सम्बोधित करते हुए प्रधानाध्यापक प्रमोद पासवान, बीआरपी श्री प्रभाष कुमार यादव ने कहा कि डा.सर्वपल्ली राधाकृष्णन एक महान व्यक्ति थे।वे काफी कर्मठ एव कुशल नेतृत्व कर्त्ता थे।जिसकी बदौलत वे शिक्षक से राष्ट्रपति तक के पद को सुशोभित किया।हमें भी उनके मार्ग पर चलकर देश और समाज की सेवा करना चाहिये। शिक्षक प्रणव कुमार,मंजर इमाम,शमशाद नदाफ,फैयाज अहमद, नुजहत परवीन,रीणा कुमारी,श्वेता कुमारी ने डॉ. सर्वपल्ली राधाकृष्णन के व्यक्तित्व पर विस्तार से प्रकाश डाला |koshixpress

उत्क्रमित मध्य विद्यालय लक्ष्मीनिया के एचएम सुभाषचंद्र सिंह,शिक्षक विनय कुमार,अज़हरुद्दीन,जनता उच्च विद्यालय चौसा के एचएम दयानंद यादव ने कहा कि राष्ट्रपति डॉ. सर्वपल्ली राधाकृष्णन जी के महान विचारों को ध्यान में रखते हुए शिक्षक दिवस के पुनीत अवसर पर हम सब ये प्रण करें कि शिक्षा की ज्योति को ईमानदारी से अपने जीवन में आत्मसात करेंगे क्योंकि शिक्षा किसी में भेद नही करती, जो इसके महत्व को समझ जाता है वो अपने भविष्य को सुनहरा बना लेता है। जीवन ज्योति पब्लिक डायमंड स्कूल में आशीष कुमार और गुप्त एजुकेशन पॉइंट चौसा गौतम कुमार गुप्त के नेतृत्व में शिक्षक दिवस का आयोजन किया गया।इसके अलावे जिले के विभिन्न विद्यालय में आयोजित समारोह में शिक्षक समेत दर्जनों बच्चो ने राधाकृष्णन जी के तैल चित्र पर पुष्पांजलि अर्पित किया और उनके व्यक्तितित्व एव कृतित्व पर प्रकाश डाला।