फार्म के संचालक को देता था कम वजन,व्यापारी का मीटर जप्त !

1576
मीटर जप्त करते अधिकारी

संजय कुमार सुमन : बिहार के मधेपुरा अंतर्गत चौसा प्रखंड में एक मुर्गा व्यापारी द्वारा मुर्गा फार्म के संचालक से बड़े पैमाने पर ठगी करने का मामला प्रकाश में आया है। संचालक ने व्यापारी का छोटी वाहन जप्त कर कार्रवाई के लिए प्रखंड विकास पदाधिकारी मिथिलेश बिहारी वर्मा को लिखित आवेदन दिया है।      koshixpress

मालूम हो कि चौसा में एक दर्जन से अधिक मुर्गा फार्म है। फार्म से थोक भाव में मुर्गा खरीदने का काम मंटू पौद्दार और मुकेश साह किया करते थे। यह कार्य पिछले कई साल से दोनों व्यापारी किया करते थे। व्यापारी के पास मुर्गा फार्म से मुर्गा मापने का जो ओटोमेटिक तराजू था वह प्रति किलो सात सौ ग्राम कम मापता था और दुकानदार को दूसरे तराजू से माप कर मुर्गा बेचने का काम करता था। जिस तराजू से दुकानदार को मुर्गा बेचने का काम करता था वह तराजू माप में अधिक होता था।koshixpress

मुर्गा फार्म के संचालक अभिषेक कुमार राणा,विमल पासवान,सुभाष पासवान,गोनर पासवान,सिन्टू पासवान,ब्रजेश पासवान,विकास पासवान,बिरेन्द्र कुमार बीरू,विजय पासवान ने बताया कि मुर्गा व्यापारी पिछले कई वर्षों से इस तरह का गोरखधंधा करने का काम हम सभी मुर्गा पालक से किया करता था। यह बात तब सामने आया जब इसके पास दो तराजू देखा गया। एक तराजू में कम और दूसरे में अधिक वजन फिक्सड् किया हुआ था। जब दोनों तराजू से मुर्गा मापा गया तो हम लोग आश्चर्यचकित हो गये। मुर्गा पालकों ने बताया कि मुर्गा व्यापारी ने अब तक हमलोगों को लाखों रूपये का नुकसान दे गया। आक्रोशित मुर्गा फार्म के संचालकों ने मुर्गा व्यापारी का छोटी वाहन को जप्त कर लिया है और व्यापारी फरार हो गया है।

संचालकों ने प्रखंड आपूर्ति पदाधिकारी चौसा को आवेदन देकर न्याय की गुहार लगाई है। आवेदन पर प्रखंड विकास पदाधिकारी मिथिलेश बिहारी वर्मा एवं चौसा थाना के सहायक अवर निरीक्षक सच्चिदानंद सिंह ने त्वरित कार्रवाई करते हुए मुर्गा व्यापारी का मीटर जप्त कर लिया है। उधर मुर्गा व्यापारी ने बताया कि मेरा मापना बिल्कुल सही है। बहरहाल जो भी हो अब तो जांच ये ही पता चल पायेगा कि मापना सही था या गलत ।