विक्रमशिला पहुंच पथ में जियो बैग डालकर क्षतिग्रस्त होने से रोकने का प्रयास जारी !

1269

संजय कुमार सुमन : बिहार के नवगछिया(भागलपुर) में जगतपुर के पास विक्रमशिला पहुंच पथ पर तीन  दिन पहले हुए कटाव की वजह से यह सड़क अबतक कमजोर बना हुआ है। ऐसे में सड़क पर ट्रकों का परिचालन होने की दूर दूर कोई संभावना नही दिखती है। बताया जाता है कि अभी चार दिन तक शुरू होने की उम्मीद नहीं है। साथ ही दोनों लेन पर एक साथ परिचालन शुरू होने में एक सप्ताह का समय लग सकता है। koshixpress

जियो बैग डालकर और क्षति होने से रोकने का प्रयास

सड़क की मरम्मत की जा रही है। कटाव की जगह जियो बैग डालकर और क्षति होने से रोकने का प्रयास किया जा रहा है। पथ निर्माण विभाग के कर्मी यहां कैंप किए हुए हैं लेकिन ठीक इसी जगह पुराने कल्वर्ट से होकर कटाव वाली तरफ से गंगा का पानी सड़क की दूसरी ओर तेजी से बह रहा है। इससे इस ओर भी पानी भरने की स्थिति उत्पन्न हो गई है। इस वजह से अभी तक इस सड़क पर ट्रकों का परिचालन शुरू नहीं हुआ है। कटाव जहां हुआ था, ठीक उसी जगह कल्वर्ट है। ऐसे में ट्रक या दूसरे भारी वाहनों का आवागमन शुरू होने पर सड़क के धंसने का खतरा हो सकता है। बसों को भी एक-एक कर निकाला जा रहा है। छोटी गाड़ियां भी धीमी गति से तथा बारी-बारी से आ-जा रही हैं। नवगछिया के रास्ते भागलपुर आने वाले ट्रकों को नवगछिया जीरो माइल मोड़ पर रोका गया है। कुछ ट्रक जगतपुर पेट्रोल पंप पर खड़े हैं। सड़कों पर वाहनों का लम्बा काफिला है ।koshixpress

क्या कहते है पदाधिकारी 

पथ निर्माण विभाग के अधीक्षण अभियंता रामावतार साह ने बताया कि भागलपुर से नवगछिया के बीच दोनों लेन पर एक साथ परिचालन शुरू होने में कम से कम सात दिन और लगेंगे। जबतक सड़क की मजबूती सुनिश्चित नहीं हो जाती है, भारी वाहनों का परिचालन शुरू करना खतरनाक हो सकता है। गंगा का जलस्तर घटने लगा है। इसलिए एक हफ्ते में सड़क किनारों पर पानी का दबाव भी कम हो जाएगा।