सनातनी कर्मकांड के परमपूज्य पं.जीवछ झा की हालत नाजुक !

746

सहरसा : मरणोपरांत हुतात्मा की शांति व मोक्ष की प्राप्ति के लिए किये जाने वाले कर्मकांड के ज्ञानी एवं सहरसा व सुपौल जिले के चर्चित स्वनामधन्य चैनपुर निवासी 87 वर्षीय परमपूज्य गुरु महाराज पं. जीवछ झा अपनी अंतिम सांसों पर चल रहे हैं। विधिवत गोदान कर अपनी मृत्यु के स्वागत में तैयार पं.झा सनातनी कर्मकांड एवं आध्य श्राद्ध व संपिण्डन के घनघोर ज्ञानी हैं। इन्होंने हजारों लोगों के मोक्ष के लिए कार्य किये हैं तथा इस क्रम में वृतिधारित जीवन व्यतीत किया हैं।

पं. श्री झा को सनातनी कर्मकांड की शिक्षा अपने पिता स्व.पं. भीखो झा से विरासत में मिली। जबकि पं.जीवछ झा को पांच पुत्र में ललित कुमार झा व सतेंद्र कुमार झा ही इस सनातनी कर्मकांड को अपनाया है और तीन पुत्र योगेंद्र नारायण झा,गंगेश झा एवं गजेंद्र झा इस विरासती पेशे से दूर हैं। पँ.श्री झा के बीमार पड़ने एवं स्वास्थ्य की हालत नाजुक होने की खबर से खासकर बनगांव, चैनपुर, पड़ड़ी, बसौना, कहरा क्षेत्रों के गुरु परिवार में चिंता छाई हुई है।