तीन दिवसीय उग्रतारा सांस्कृतिक महोत्सव दो से चार अक्टूबर को होगा !

1790

तीन दिवसीय उग्रतारा सांस्कृतिक महोत्सव का उद्घाटन दुर्गा पूजा के दूसरे दिन दो अक्टूबर को होगा. चार अक्टूबर तक चलने वाले इस महोत्सव में विविध सांस्कृतिक कार्यक्रम के आयोजन के साथ साथ मंडन धाम महिषी में सेमिनार भी आयोजित किया जायेगा. स्थानीय राजकमल क्रीड़ा मैदान में महोत्सव के तीनों दिन स्थानीय व बाहरी नामचीन कलाकारों द्वारा कोसी सहित बिहार की लोक संस्कृति पर आधारित सांस्कृतिक कार्यक्रमों की मनमोहक प्रस्तुति की जायेगी.वहीं बाहरी कलाकारों की प्रस्तुति से उग्रतारा सांस्कृतिक महोत्सव की सांस्कृतिक संध्या को गुलजार किया जायेगा. इस मौके पर प्रकाशित होने वाले स्स्मारिका में इस बार मां तारा के विचार व समाज में फैली कुरीतियों को हटाने पर सहमति जतायी गयी |

कोसी क्षेत्र की सांस्कृतिक व धार्मिक विशिष्टता को पर्यटन  पर लाने के उद्देश्य से 2012 में शुरू हुआ उग्रतारा महोत्सव 

कोसी क्षेत्र की सांस्कृतिक व धार्मिक विशिष्टता को पर्यटन के मानचित्र पर स्थापित करने के उद्देश्य से महिषी के उग्रतारा धाम की महत्ता को लेकर पिछले चार सालों से नवरात्रि के मौके पर आयोजित उग्रतारा सांस्कृतिक महोत्सव के आयोजन को लेकर शनिवार को आयोजन समिति की बैठक आयोजित की गयी. पर्यटन विभाग व जिला प्रशासन के सौजन्य से आयोजित होने वाले उग्रतारा सांस्कृतिक महोत्सव को इस साल भी सफलता पूर्वक आयोजित किये जाने का निर्णय लिया गया.

उग्रतारा सांस्कृतिक महोत्सव आयोजन को लेकर हुई बैठक

प्रभारी डीएम उदय कृष्ण की अध्यक्षता में आयोजन समिति से जुड़े अधिकारी व विभिन्न क्षेत्रों से जुड़े लोगों से महोत्सव के सफल आयोजन को लेकर विचार विमर्श किया गया. महोत्सव की सफलता को लेकर गठित विभिन्न समितियों को कार्य भार की जिम्मेदारी दी गयी. महोत्सव आयोजन की रूपरेखा को अंतिम रूप देने के लिए विभिन्न समितियों के संयोजक की बैठक पांच सितंबर को बुलायी गयी है. ताकि आयोजन की तैयारी को मूर्त रूप दिया जा सके |koshixpress
महोत्सव का किया जायेगा प्रचार प्रसार
  • प्रचार के लिए रेलवे स्टेशन व बस स्टैंड पर लगेगी होर्डिंग
बिहार सहित राष्ट्रीय पर्यटन के मानचित्र पर उग्रतारा सांस्कृतिक महोत्सव की ख्याति को देख व्यापक रूप से महोत्सव के प्रचार प्रसार पर विशेष जोर दिये जाने की बात कही गयी. सदस्यों ने इसके लिए रेलवे स्टेशन से लेकर बस स्टैंड पड़ाव पर विशेष रूप से उग्रतारा स्थान से संबंधित विवरण व महोत्सव से जुड़ी जानकारी, सूचना पट्ट, होर्डिंग, बैनर व पोस्टर लगाने पर सहमति जतायी. साथ ही उग्रतारा धाम के नाम से एक वेबसाइट का निर्माण कर उस पर भी महोत्सव व स्थल से जुड़ी जानकारी को अपलोड करने की बात कही गयी.ताकि देश व दुनिया तक महोत्सव व उग्रतारा धाम की विशिष्टता को पहुंचाने में मदद मिल सके. बैठक में मौजूद उग्रतारा न्यास समिति के सदस्यों ने स्थानीय पीएचसी का गंदा पानी मंदिर परिसर में आ जाने पर नाराजगी जतायी. इस पर प्रभारी डीएम ने मामले को गंभीरता से लेते हुए समस्या के समाधान का भरोसा दिलाया |koshixpress
नवरात्रा के दूसरे दिन महोत्सव का उद्घाटन
बैठक में सदर एसडीओ मो जहांगीर आलम, एसडीपीओ सुबोध कुमार विश्वास, ओएसडी अनिल पांडे, वरीय उप समाहर्ता जनार्दन कुमार, सिविल सर्जन डॉ अशोक कुमार सिंह, डीपीआरओ बिंदुसार मंडल, उग्रतारा न्यास समिति के प्रमील मिश्र,नारायण चौधरी, वाचस्पति झा, जिप सदस्य सह भाकपा जिला सचिव ओमप्रकाश नारायण, समाज सेवी कुमार हीरा प्रभाकर, जिप उपाध्यक्ष छत्री यादव, जिला निबंधन पदाधिकारी चंद्र प्रकाश, कर्मी मुक्तेश्वर सिंह मुकेश सहित अन्य मौजूद थे.  |
(श्रोत- प्रभात खबर)