कृष्ण जन्माष्टमी पर बरसी कृपा,सूनी कोख खुशियों से भर गयी !

1828

संजय कुमार सुमन : भगवान श्री कृष्ण दीनदयाल कहलाते है जो भी इनके शरण में आ जाता है उस पर उनका कृपा बरसता है जी यह सच है मधेपुरा जिले के चौसा प्रखंड मुख्यालय स्थित बाजार निवासी रामोतार आनंद के ज्येष्ठ पुत्र संतोष कुमार और उनकी पुत्रवधू उषा रानी के लिये आज श्री कृष्ण जन्माष्टमी का दिन यादगार बन गया ।आज इन निःसंतान दंपति की सूनी गोद भर गई ।आमलोगों के जुबान पर बस यही चर्चा है कि – “बरसों से अंधियारी उषा की गोद में आज किरण पहुंच गई । “koshixpress

जन्माष्टमी पर किशन लला की बरसी कृपा

बताना बेहद जरुरी है की संतोष दंपति संतान सुख से वंचित थे । हद तो यह है की वे विगत कई वर्षों से किसी बच्चे को गोद लेने के लिए प्रयासरत थे ।आज उन्हें पता चला की स्थानीय प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र चौसा में चौसा थाना क्षेत्र के फुलकिया निवासी आजाद यादव की पत्नी पुतुल देवी ने जुडवां बच्ची को जन्म दिया है ।इसके पूर्व उन्हें पांच पुत्री है ।फिर क्या था संतोष दंपति अस्पताल पहुंच कर यादव दंपति से एक पुत्री को गोद देने की विनती की ।koshixpress

सूनी कोख खुशियों से भर गयी

यादव दंपति ने उनकी बात मानते हुए लिहाजा एक सादे समारोह में बीडीओ मिथिलेश बिहारी वर्मा,थानाध्यक्ष सुमन कुमार सिंह,जद यू प्रखंड सचिव नरेश ठाकुर निराला ,सुबोध सौरभ ,यहिया सिद्दीकी ,संजय कुमार,विपिन बिहारी सहित दर्जनों लोगों की उपस्थिति में नवजात बच्ची को उषा की गोद में अर्पित कर सभी ने बच्ची के उज्ज्वल भविष्य के लिए आकंठ आशीर्वाद दिया । koshixpress

उषा की गोद में पहुँची किरण

यह घटना किसी फ़िल्मी कहानी से कम नहीं है ।लेकिन जिसपर मालिक की कृपा बरस जाए,फिर तो कुछ भी सम्भव है ।बाल कृष्ण ने यह कलयुगी लीला दिखाई है ।पूरा इलाका कृष्ण जयकारे लगा रहा है ।