याहू,नोकिया,कोडक जैसी कंपनी समय के साथ नहीं बदलने के कारण लगभग हो गयी विलीन !

1456

राजीब कुमार झा : बिहार में जात-पात ने अपने माया जाल में इस कदर लपेट लिया है कि लोगों को बदलते जमाने के बारे में कुछ समझ ही नहीं आता है ।आज भारत के कुछ राज्य सहित विदेश की धरती पर लगभग सब कुछ बदलते ज़माने के अनुसार बदल रहा है परंतु बिहार के अंदर दिन व दिन गरीबी और अशिक्षा में वृद्धि  हो गयी है ।प्रत्येक दिन जिले के अंदर कुछ न कुछ घटना होती रहती है आम जन को सड़क पे उतरना पड़ता है फिर जिला प्रशासन से लेकर पुलिस प्रशासन की नींद टूटती है । सवाल यह है कि हम कभी भी और कहीं भी शिक्षा से संबंधित राजनीति करते ही नहीं कभी भी हम बदलते ज़माने के बारे में चर्चा करते ही नहीं तो आखिर हम कैसे बदलेगें ।

ज़माने के साथ नहीं बदलने से बिहार में विकाश नहीं

  • याहू को गुगल ने तो नोकिया को माइक्रोसॉफ्ट ने खरीदा

आज अगर आप पुराने जमाने से लेकर नए जमाने की बात करें तो जो समय के साथ बदला उनकी ऊँचाई बुलंदी पर है,मोबाइल के युग में कहा जाता है कि नोकिया है तो दुनिया है। मालूम हो की कहा जाता है कि फिनलैंड की कंपनी राष्ट्रपति उतने धनि नहीं थे जितने की नोकिया कंपनी के मालिक लेकिन बदलते जमाने के साथ नोकिया नहीं बदला तो उन्हें आज माइक्रोसॉफ्ट के हाथों बिकना पड़ा और नोकिया लगभग मृत हो गयी,यही नहीं आज बदलते ज़माने के साथ याहू नहीं बदला तो उन्हें गूगल के हाथों बीकन पड़ा ,फोटोग्राफी के युग महसूर कोडक कैमरा को आज बदलते ज़माने के कारण बाजार से कोसों दूर हो गया।

बिहार के बच्चे कंप्यूटर से कोसों दूर जबकि विदेश में बच्चे कंप्यूटर क्षेत्र में बहुत आगें

आज गांव घर बदलते जमाने से कोसों दूर है। लेकिन वर्ष 2014 की लोकसभा के चुनाव ने लोगों को ये एहसास करवा दिया की फेसबुक,व्हाट्सएप्प,ट्विट्टर, आदि से बहुत कुछ हो सकता है और आज लगभग छोटे से लेकर बड़े प्रतिनिधि और प्रशासन इन का उपयोग कर रहें हैं । सवाल यह उठता है कि कब इस दिशा में प्रयाश किया जायेगा कब लोगों को स्वास्थ्य, शिक्षा,आदि का लाभ बदलते ज़माने के साथ मिल पायेगा या फिर आज भी हम सरकार की नीति और जाति से आरक्षण में ही फसें रहेगें । आज भी बिहार के अधिकतर बच्चे कंप्यूटर के युग से कोशों दूर है जबकि विदेशों में बच्चे कंप्यूटर के नए प्रोग्राम से तेज बढ़ रहे है। अब देखना यह होगा की सरकार शराब में ही ब्यस्त रहती है या फिर संस्कार भी बदलने का प्रयाश करती है।