आजादी के 25 वें वर्षगांठ पर लगाए गए शिलापठ उपेक्षा का शिकार !

1519

आजादी के 69 वे वर्षगांठ की तैयारी अनुमंडल क्षेत्र में जोड़ों पर है सभी जगह तिरंगा फहराये जाने वाले स्थानों पर रंग रोंगन का कार्य किया जा रहा हैं वही आजादी के 25 वे वर्षगांठ पर सरकार के द्वारा स्थापित किये गये शिलापठ प्रसाशनिक उदासिनता का शिकार नजर आ रहा है किसी भी प्रखंड में इस शिलापठ को कोई देखने वाला नही हैं। सिमरी बख्तिारपुर प्रखंड कार्यालय से सटे पूरब की दिशा में लगाया गया यह शिलापठ कई वर्षो से रंग रोंगन नही कराया गया है वही सलखुआ प्रखंड में तो ठीक बीडीओं साबह के कार्यालय के आगे यह लगा हुआ है जो समय के साथ जमींदोंज हो गया है लेकिन प्रत्येक दिन बीडीओं साहब की नजर में रहने के बावजूद इस ओर कोई कार्यवाही नही किया गया |

koshixpress

क्या है शिलापठ में अंकित

भारत की आजादी के 25 वर्ष पुरे होने पर भारत सरकार ने सभी प्रखंड मुख्यालयों पर 15 अगस्त 1972 ई को शिलापठ लगाया गया था जिसमें एक तरफ भारत की संविधान की मुख्य बातों को दर्शाया गया है वही दुसरी ओर उस क्षेत्र के महान स्वतंत्रता सेनानीयों के नाम को दर्शाया गया है। सिमरी बख्तियारपुर के शिलापठ में कुल 12 सेनानीयों के नाम अंकित है जिनमें सांसद एवं विधायक रह चुके जियालाल मंडल,अयोध्या प्रसाद मंडल,फुलेश्वर मंडल,महेन्द्र सिह,सरयुग सिह,गणेश प्रसाद सिह,मुंशी प्रसाद सिह,रामाशंकर सिह,जगदीश प्रसाद सिह,जनार्दन प्रसाद सिह,मथुरा प्रसाद सिह एवं अब्दुल वाहीद हैं। इन लोगों ने देश आजादी में योगदान दिया इस बात को भी याद करने के लिये कम से कम प्रत्येक स्वतंत्रता दिवस पर रंग रांेगन कर एक पुष्प भी चढ़ा दिया जाता तो इनकी आत्मा को शांति मिलती ।koshixpress

  • सलखुआ प्रखंड में तो जमीनदोंज हो गई हो गई है शिलापठ

क्या कहते है लोग

स्थानीय जनप्रतिनिधियों सहित निवासीयों का कहना है कि इस तरह की उपेक्षा नही होनी चाहिये। पूर्व जिप सदस्य रितेश रंजन का कहना है कि इस तरह की उपेक्षा कि जितनी निंदा की जाय वे कम है इस ओर पदाधिकारी का ध्यान दिलाया जायेगा। वही राजद प्रखंड अध्यक्ष हैलाल असरफ कहते है कि यह तो सरासर देश के सम्मान के साथ खेलवार है जिन लोगों ने देश को आजाद कराया उनके नाम अंकित शिलापठ के साथ ही संविधान के वर्षगांठ पर लगाये गये शिलापठ की उपेक्षा होता है यह तो बड़े शर्म की बात हैं।

वही स्थानीय निवासी अनुज कुमार,राकेश भारती,दिवाकर कुमार,अरूण यादव,लोकेश कुमार,दिलीप साहनी,रौशन सिह,दुलारचंद आदि ने स्थानिय प्रशासन से अबिलंव इस ओर ध्यान देने का आग्रह किया हैं।