लावारिश हालत में मिले भगवान !

1499

मधेपुरा: (संजय कुमार सुमन) : शनिवार की सुवह करोड़ों रुपये मूल्य की अष्टधातु की तीन मूर्ति राम,जानकी,और लक्ष्मण की  जिले के उदाकिशुनगंज थाना क्षेत्र के पीपरा करौती पंचायत के रजक टोला वार्ड नंबर 12 के गुदरी स्थान के पास लावारिश हालत में पड़ी थी जिसे एक ग्रामीण ने देखा और सही सलामत अपने पास रख लिया |koshixpress

सूचना मिलते ही उदाकिशुनगंज थाना पुलिस रजक टोला पहूंचकर मूर्ति को बरामद कर लिया है। मालूम हो की करौती वार्ड नंबर 12 के गुदरी स्थान के पास एक प्लास्टिक बोडे में बंधी राम, जानकी, लक्ष्मण का अष्टधातु मूर्ति रखी  हुई थी। बताया जाता है कि शनिवार की सुबह घूमने निकले स्थानीय सुनील रजक की नजर अचानक बोडे पर पड़ी। बोडे को उठाकर जब बोड़ा को खोला गया तो उसमे राम, जानकी, लक्ष्मण की अष्टधातु मूर्ति पड़ी थी । जिसे सुनील रजक उठाकर अपने घर रजक टोला लाया।koshixpress

जिसके बाद इसकी सूचना पंचायत के पूर्व मुखिया सह मुखिया पति छोटेलाल पौद्दार तथा उदाकिशुनगंज पुलिस को दी गयी।सूचना पाकर उदाकिशुनगंज पुलिस रविन्द्र प्रसाद सिंह पुलिस बल के साथ करौती रजक टोला पहूंचकर छानबीन की। जिसके बाद मूर्ति को उदाकिशुनगंज थाना ले जाने की पहल जारी की गयी. जिसपर स्थानीय लोगों के द्वारा पुलिस को मूर्ति थाना ले जाने से मना किया गया | ग्रामीणों का कहना था कि जबतक यह पता नहीं हो जाता है कि मूर्ति चोरी की है. या कहाँ से लाई गई है तब तक मूर्ति पब्लिक के कब्जे में रखकर पूजा अर्चना की जाएगी |

इतना हीं नहीं गुदड़ी स्थान के पास मंदिर स्थापित करने की बात भी लोगो के द्वारा कही जाने लगी लेकिन पुलिस द्वारा इस प्रकार की बात से इंकार किया गया | बावजूद पब्लिक अपनी जिद्द पर डटी रही| लोगों का कहना था की जान चली जाएगी लेकिन मूर्ति को थाने नहीं जाने देंगे |मूर्ति का स्थान मंदिर में होता है थाने में नहीं.हालांकि घर के मुखिया उपेंद्र रजक के द्वारा लोगों को समझा-बुझा कर मूर्ति को पुलिस के हवाले कर दिया गया । पुलिस पुरे मामले की अपने स्तर से छानबीन में जुटी है |