संयुक्त छात्र संगठन आया सड़क पर,भ्रष्ट कुलपति से आजादी के नारे से गुंजा मधेपुरा !

1186
आन्दोलन करते छात्र नेता

मधेपुरा (kx डेस्क) :एक माह से संयुक्त छात्र संगठन के द्वारा बीएनएमयू मे व्याप्त शैक्षणिक और आर्थिक अराजकता को लेकर जारी बीएनएमयू बचाओ आंदोलन कुछ दिनो के लिए कुलपति से वार्ता के बाद तो थमा किन्तु कुलपति के द्वारा बीएड प्रवेश परीक्षा मे जाँच के नाम पर छात्र संगठन के द्वारा विश्वासघात किए जाने के बाद पुनः संयुक्त छात्र संगठन का आंदोलन करने पर उतारू हो गए है ।koshixpress

 बीएनएमयू को  बचाने के लिए शहरवासियों से मांगी समर्थन

बुधवार को विश्वविद्यालय प्रशासन को चूड़ी पहनाने के बाद गुरुवार को संयुक्त छात्र संगठन के कार्यकर्त्ता ने भूपेंद्र चौक से कर्पूरी चौक तक मार्च कर शहरवासियो से इस आंदोलन मे  सहयोग मांगा इस दौरान भूपेंद्र चौक, सुभाष चौक  पूर्णिया गोला, कर्पूरी चौक पर नुक्कड़ सभा कर छात्र नेताओ ने  शहरवासियो को विश्वविद्यालय प्रशासन की करतूतो से अवगत कराया नुक्कड़ सभा के माध्यम से छात्रो ने शहरवासियो को ये बताने का प्रयास किया की कुलपति व उनके चाटुकार के कारण शिक्षा जगत मे मधेपुरा की छवि राष्ट्रीय फलक पर कलंकित हो रही है जिसके खिलाफ सभी छात्र संगठनो के उग्र आंदोलन का शंखनाद हो चुका है छात्र नेताओ ने इस भागीरथी प्रयास मे शहर वासी को अभिभावको के भूमिका मे आगे आने की अपील की |koshixpress

सभाओं को संबोधित करते हुए छात्र नेताओं ने स्पष्ट किया की ये इस जिले के अस्मिता का सवाल है जिसमे सबके सहयोग से ही सफलता प्राप्त की जा सकती है । छात्र नेताओ ने कहा कि कुलपति के ढाई वर्ष का कार्यकाल सिर्फ जूमलो से चला है अब आर पार की लड़ाई शुरू है जिसका अंत अंजाम तक जाकर ही होगा । वही छात्र नेताओ ने लगातार परीक्षा विभाग की उजागर हो रही अनेकों खामियों के बाद भी विश्व प्रशासन द्वारा परीक्षा नियंत्रक को नही हटाए जाने पर रोष व्यक्त करते हुए कहा कि परीक्षा नियंत्रक से कुलपति को ऐसा क्या फायदा है कि उन्हें नही हटा रहे है छात्र नेताओ ने कड़ी चेतावनी देते हुए कहा कि अगर अविलंब परीक्षा नियंत्रक को नही हटाया गया तो संयुक्त छात्र संगठन उन्हे कुर्सी से हटाने का काम करेगा|koshixpress

शहर मार्च मे एनएसयूआई के प्रदेश महासचिव मनीष कुमार, पूर्व राष्ट्रीय प्रतिनिधि प्रभात कुमार मिस्टर, एआइएसएफ के विश्वविद्यालय प्रभारी हर्ष वर्धन सिंह राठौर, जिला अध्यक्ष मो0 वसिमुद्दिन , एएसएफआइ के जिला अध्यक्ष सारंग तनय , एनएसयूआई के राहुल राज निशांत यादव, गौरव कुमार, मौसम झा , मिथिलेश कुमार अंशु कुमार, एआइएसएफ के नीरज कुमार, हिमांशु राज, सलमान,  पप्पू सहित दर्जनो कार्यकर्ता थे ।