अतिक्रमण कर फुटफाट पर दुकान लगाये जाने से राहगीर हो रहे परेशान !

1447

मधेपुरा (संजय कुमार सुमन) : अतिक्रमण के मामले में चौसा प्रखंड के लौआलगान के बारे में क्या कहना। पहले तो सड़क को स्थानीय लागों ने कब्जा कर घर बनाया या फिर स्थायी रूप से दुकान बना लिया और जो बचा फुटफाथ पर अस्थाई दुकानदारों ने कब्जा जमा लिया। सड़क पर से अतिक्रमण को हटाने को लेकर भूमि सुधार उपसमाहर्ता उदाकिशुनगंज ने चौसा सीओ को विधि सम्मत कार्रवाई करने का निर्देश दिया लेकिन अधिकारी ने उच्च पदाधिकारी के निर्देश को भी ठंडे बस्ते में डाल दिया। पूर्वोतर भारत का चर्चित स्थल बाबा विशु राउत का पचरासी मंदिर जाने का एक मात्र रास्ता लौआलगान है। मंदिर आने जाने के लिए छोटे बड़े वाहनों का कतार हमेशा लगा रहता है। फुटफाथ की जमीन के अतिक्रमण कर लिए जाने से आवागमन में जहां काफी कठिनाईयों का सामना करना पड़ता है वहीं बाजार आने-जाने वालों के लिए बाजार में पैदल के लिए जगह बची ही नहीं है।

मालूम हो कि यहां के लोगों द्वारा मुख्य सड़क का ही इस्तेमाल फुटफाथ के रूप में किया जाने लगा है। सड़क के अति व्यस्त हाने के कारण हर समय जाम की स्थिति बनी रहती है। स्थानीय लोगों ने कई बार सरकारी बैठकों में फुटफाथ के अतिक्रमण को लेकर जोर-शोर से आवाज उठाई लेकिन अब तक कोई सकारात्मक पहल नहीं हो पाई। लिहाजा सड़क पर अतिक्रमण जारी है। बरसात के कारण सड़क पर दो से तीन फीट पानी जम गया है जिसके कारण आवागमन में काफी कठिनाईयों का सामना करना पड़ता है इतना ही नही सड़क पर काफी दिनों से जमे पानी के कारण अब दुर्गंध निकलने लगी है। कहीं महामारी ना फैल जाय लोग आशंकित हैं।

पूर्व समिति सदस्य सुधीर सिंह,पूर्व मुखिया बीमला देवी,मुखिया मुर्शीद आलम,कांग्रेस नेता शंभू सिंह समेत दर्जनों लोगों ने अंचलाधिकारी से लौआलगान के मुख्य सड़क को अतिक्रमण मुक्त करने की मांग की है।

अंचलाधिकारी अजय कुमार कहते हैं कि चौसा अंचल के प्रमुख बाजारों में शीघ्र ही अतिक्रमण हटाने को लेकर मुहिम छेड़ा जाएगा। लगातार आम लोगों से अतिक्रमण को लेकर शिकायतें मिल रही है।