टावर से गिरने से मौत या फिर हत्या,परिजनों ने जमकर किया बबाल !

1274

सहरसा (कुणाल किशोर)सदर थाना के गांधी पथ में देर रात  एक युवक मंतोष उर्फ़ संतोष यादव की मोबाईल टावर पर से गिर कर घायल हो गया ,घायल अवस्था में निजी नर्सिंग होम से  बेहतर ईलाज के लिए पटना  रेफर कर दिया गया लेकिन दरभंगा के रास्ते में ही उसकी मौत हो गयी | मौत से खार खाए परिजनों ने शव को एम्बुलेंस सहित थाने ला कर विरोध प्रदर्शन करना शुरू कर दिए |पुलिस द्वारा पोस्टमार्टम कराने के आग्रह हो भी नही मानते हुए पहले तो सदर थाना में अपने आक्रोश का इजहार किया |उस के बाद थाना गेट के सामने आगजनी कर पुलिस के विरोध में जमकर नारे बाजी किया |

मृतक
मृतक

गिरने से मौत या हत्या 

सदर पुलिस का कहना है की युवक मंतोष उर्फ़ संतोष यादव की मौत मोबाइल टावर पर से गिरकर हुयी है ।लेकिन मृतक के परिजन का कहना है की युवक को चाक़ू मार कर उसकी हत्या की गयी है ।लेकिन परिजन एक ही बात पर डटे रहे की  यह हत्या है | मृतक के परिजन ने सदर थाना के बाहर आगजनी कर अपना विरोध प्रदर्शन किया,उसके बाद थाना चौक पर आगजनी कर चौक को पूरी तरह से जाम कर दिया ।इस जाम की वजह से घंटों यातायात बाधित रहा ।

मृतक के पिता अशोक यादव
मृतक के पिता अशोक यादव

परिजन का क्या है आरोप 

सदर थाने को दिए गये तहरीर में मृतक के पिता सुखासन निवासी अशोक यादव ने कहा है की मंगलवार शाम में मंतोष ने बताया था की आशुतोष कुमार (बिहरा),शक्ति कुमार (कायस्थ टोला)एवं शंकर कुमार (गाँधी पथ) सभी सहरसा एवं 3-4 अज्ञात लडको से झगड़ा होने की बात कहा था साथ ही जान से मारने की धमकी भी दिया था |मृतक के पिता ने बताया की वह गाँधी पथ के एक मोबईल टावर पर काम करने चला गया जिसके बाद रात के 2 बजे के करीब सुचना मिली की वह निजी नर्सिंग होम में भर्ती है |

पुलिस के रवैये बिना सच की  तहकीकात से लोगों का गुस्सा फूटा

पुलिस कर्मी अपराध की मोटी फाईल लेकर बस हाँफते और जल्दी से उसके निपटारे की जुगत में जुटे रहते हैं ।हद तो यह है की एक घटना के बाद पुलिस अधिकारी दम भी नहीं मार पाते हैं की नयी घटना उनके सामने बड़ी चुनौती के साथ आ जाती है ।अब मंतोष की मौत की गुत्थी को सुलझाना पुलिस के लिए एक नयी मुसीबत है ।पुलिस के खिलाफ लोगों के आक्रोश के बाद अब पुलिस अधिकारी भी मंतोष की मौत को ह्त्या मान रहे हैं ।koshixpress

क्या कहती है पुलिस 

भीड़ से वार्ता करते स्थानीय विधायक
भीड़ से वार्ता करते स्थानीय विधायक

सदर थानाध्यक्ष संजय सिंह कहते है की परिजन से मिले आवेदन के आधार पर  मामला दर्ज कर जाँच की जा रही है |

जाम स्थल पर पहुचे अधिकारी एवं विधायक 

जाम स्थल थाना चौक सहरसा के स्थानीय विधायक अरुण यादव,मुखियालय डीएसपी अरविन्द कुमार ,सदर थानाध्यक्ष संजय सिंह,सोनवर्षा कचहरी थानाध्यक्ष पंच लाल यादव,ट्रेफिक इंचार्ज नागेन्द्र राम,दरोगा कमलेश सिंह,अभिनाश कुमार सहित अन्य मौजूद थे | अधिकारियो के आश्वासन के बाद जाम को हटाया गया एवं शव को पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल ले जाया गया |