पाकिस्तान और जाकिर नाईक के विरोध में जगह-जगह प्रदर्शन !

727
विरोध -प्रदर्शन करते कार्यकर्त्ता

सहरसा/सुपौल (kx डेस्क) : पटना के कारगिल चौक पर पाकिस्तान और जाकिर नाइक के समर्थन में लगे नारों के विरोध में जगह-जगह विरोध-प्रदर्शन जारी है |सोमबार को सहरसा के शंकर चौक पर भाजपा कार्यकर्ताओ द्वारा पाकिस्तान का झंडा जलाकर विरोध किया तो वही सुपौल में रविवार शाम बजरंग दल त्रिवेणीगंज इकाई द्वारा कमलेश सम्राट के नेतृत्व में जाकिर नाइक का पुतला फूंका गया |सहरसा में पूर्व विधायक आलोक रंजन ने कहा कि नितीश कुमार जी जब से इशरत जहां को बिहार की बेटी और कन्हैया जैसे लोगों को बिहार का बेटा कहने लगे तभी से बिहार में आतंकी गतिविधियां बढने लगी और नीतीश कुमार के तुष्टिकरण नीति के कारण अब तो खुले आम पटना के सडको पर पाकिस्तान का नारा लगने लगा है |इस अवसर पर भाजपा व्यवसाय मंच सहरसा के जिलाध्यक्ष राजीव रंजन साह,युवा मोर्चा के अध्यक्ष मीहिर झा,अमित ठाकुर,रोशन कुवंर,शक्ति गुप्ता,विनय झा,कुश मोदी,रणजीत चौधरी,सुमन विक्की आदि मौजूद थे |

विरोध करते बजरंग दल के कार्यकर्त्ता
विरोध करते बजरंग दल के कार्यकर्त्ता

बजरंग दल की त्रिवेणीगंज इकाई ने रविवार शाम त्रिवेणीगंज के सड़कों पर जाकिर नाईक का पुतला जलाया और जमकर विरोध प्रदर्शन किया. विरोध प्रदर्शन का नेतृत्व कर रहे कमलेश सम्राट ने बताया कि पटना में पाकिस्तान के समर्थन में खुलेआम नारेबाजी की जाती है और बिहार सरकार इस पर कोई भी कारवाई नहीं कर रही है. इसी के विरोध में बजरंग दल बिहार के साथ-साथ पूरे देश में विरोध -प्रदर्शन कर रहा है. अगर देश विरोधी ताकतों के खिलाफ जल्द करवाई नहीं किया गया तो संगठन आंदोलन को जल्द ही उग्र रूप देगा. इस विरोध प्रदर्शन में विशाल जायसवाल, कुमार त्रिलोक, संतोष झा, तरुण कुमार, कृष्ण कुमार, मौसम कुमार, आकाश यादव, कृष्ण कुमार समेत बजरंग दल के सैकड़ों कार्यकर्ता मौजूद रहे।

वही भाजपा नेता सह पूर्व जिला पार्षद प्रवीण आनंद ने जारी बयान में पटना में जाकिर नाइक और पाकिस्तान के समर्थन में लगे नारे की घोर निंदा करते हुए कहा कि वतन को फिर गिरवी ना रख देना वतन वालों ,शहीदों ने बड़ी मुश्किल से आज़ादी दिलाई थी|आजादी इतनी आसानी से नहीं मिली थी,उस समय अंग्रेजो को खदेरा गया था |लेकिन अब हमारे घर में देशी अंग्रेजो का जमावरा लगा हुआ है |भारत में रहकर के भारत विरोधी बात करना पाकिस्तान जिंदाबाद का नारा लगाना देशी अंग्रेज की पहचान है |यह देश हम सबों का है |मुझे गर्व है की मै इस मिटटी में पैदा लिया हूँ |