बिहार में गुणवत्तापूर्ण शिक्षा की जरुरत – शिक्षा मंत्री

1331
प्रेस वार्ता करते शिक्षा मंत्री अशोक चौधरी

कटिहार ( sadab alam) : बिहार के शिक्षा मंत्री एक दिवसीय पद यात्रा के दौरान कटिहार पहुंचे ,जहाँ उन्होंने सर्किट हाउस में एक प्रेस वार्ता के दौरान माना की बिहार में स्कूलों में बेहतर शिक्षा नहीं है और शिक्षा को और बेहतर करने की जरुरत है ताकि बढ़ते बिहार की जो तस्वीर है उसमे बदलाव आये उन्होंने कहा की शिक्षा को बेहतर करने के लिए लोगों को स्कूल के आस पास के लोग ,जिनके बच्चे स्कूलों में पढ़ते हैं उनको जागरूक होना पड़ेगा ,क्योंकि कोई अधिकारी को जबतक किसी स्कूल या शिक्षक का कोई शिकायत नहीं मिलता तब तक वो भी  कर सकते हैं ,इसलिए लोगों के बीच जागरूकता जरुरी है ,शिक्षा के क्षेत्र में अल्पसंख्यक समुदाय के बीच अभी भी शून्य हैं ,और इस समाज में जागरूकता आये और बेहतर शिक्षा दिया जा सके उसके लिए सरकार चिंतित है ,उन्होंने अपने पदयात्रा के बारे में बताते हुए कहा की  हमारे पदयात्रा का मुख्य उद्देश् गाँव गाँव में बेहतर शिक्षा का अलख जगाना है ,इसके लिए कटिहार के कोढ़ा से इसकी शुरुआत की गयी है |

शिक्षा मंत्री ने कहा की नियोजित शिक्षकों को समय पर वेतन नहीं मिल पा रहा है इसका दुःख है और जबतक उन्हें वेतन वक्त पे नहीं मिलेगा बेहतर शिक्षा पाना मुमकिन नहीं है ,वेतन वक्त पर नहीं मिलने का कारन ये है की 60 फीसदी वेतन केंद्र देती है और 40 प्रतिशत वेतन बिहार सरकार देती है ,और इतने शिक्षकों को वेतन देने में असमर्थता आ जाती है ,जिस कारण एक साथ इतने शिक्षकों को वेतन नहीं मिल पाता है ,जिस कारण शिक्षकों का इतने माह का वेतन रुका रह जाता है ,केंद्र से इस मामले को सुलझाने की बात चल रही है ,मुख्यमंती खुद इसपर पहल कर रहे हैं ,आनेवाला दिन बेहतर होगा।
उन्होंने ये भी कहा की वर्लड बैंक से 20 करोड़ का करार हुआ है जिसे शिक्षकों को बेहतर शिक्षा लाने की ट्रेनिंग दी जायेगी ,ताकि वो बेहतर शिक्षा कैसे बच्चों को देंगे इसके  उन्हें तैयार किया जायेगा। इस मौके पर कोढ़ा विधायिका पूनम पासवान ,कांग्रेस जिला अध्यक्ष प्रेम राय उपस्थित थे।