अवैद्य वसूली का काला कारोबार :प्राईवेट गुर्गे स्टेशन पर मचा रहे ग़दर !

1660
रेलवे स्टेशन पर वसूली करते प्राइवेट गुर्गे (लाल घेरे)

सहरसा (कुणाल किशोर) : सोशल मीडिया पर वायरल हुए वीडियो में खगड़िया रेलवे स्टेशन पर खुलेआम अवैध वसूली का खेल दिखाया का खुलासा हुआ है ।गठरी-मोटरी वालों से एक युवक के द्वारा खुलेआम वसूली करते वीडियो वायरल होने के बाद अब बबाल मचा हुआ है ।इस बायरल वीडियो के अनुसार खगड़िया रेलवे स्टेशन के प्लेटफार्म संख्या एक पर एक युवक बिना सामन बुक कराए ले जा रहे महिला और पुरुषों से अवैध वसूली के लिए कीच-कीच कर रहा है ।इस दौरान प्राइवेट गुर्गे पैसा देने में ना-नुकुर कर रहे लोगो को धमकी देने से भी नही चुक रहा है |काफी देर तक एक-दुसरे के बीच रेट तय होने के बाद और फिर नजराना देने के बाद सामान के मालिकों को सामान ले जाने दिया जाता है |सूत्रों के अनुसार 10 रूपए से 20 रूपए प्रति बोरी,गठरी,मोटरी के हिसाब से राशि ली जाती है । इस तरह के आधे दर्जन प्राइवेट गुर्गे रेलवे स्टेशन पर सक्रिय हैं |koshixpresskoshixpress

  • यात्रियों में मचा हाहाकार

रेलवे को लाखों का राजस्व घाटा
एक अनुमान के मुताबिक खगड़िया स्टेशन पर प्रतिदिन 90 से 100 क्विंटल सामान बिना बुक किए हुए सामान आते-जाते रहते हैं ।रेलवे में चल रही इस अवैध वसूली से रेलवे को जहाँ लाखों रूपए के राजस्व का नुकसान हो रहा तो वहीं स्थानीय रेल अधिकारी,रेलवे पुलिस,आरपीएफ, टीटीई एवं प्राइवेट गुर्गे की चाँदी कट रही है ।प्राइवेट गुर्गे द्वारा वसूली की गयी राशि बाद में बराबर हिस्सों में बांटी जाती है ।हलाकि रेल पुलिस,आरपीएफ इस अवैध वसूली की बात से साफ इंकार करती रही है । अब सोचने वाली बात यह है की आखिर स्टेशन पर रेल पुलिस, आरपीएफ के जवान के रहते ये प्राइवेट गुर्गे कैसे वसूली करते है ?जब यह अवैध है तो फिर इनको रेल पुलिस पकडती क्यों नही ?koshixpresskoshixpress

अवैध वसूली को ले पूर्व से चर्चाओ में रहा है खगड़िया रेलवे स्टेशन
जानकारी के अनुसार बीते दिनों खगड़िया स्टेशन अधीक्षक प्रवीण कुमार ने डीआरएम को पत्र के माध्यम से रेलवे में चल रहे अवैध वसूली पर के खेल पर से पर्दा हटाते हुए कड़े कदम उठाने की बात की थी ।उस समय भेजे गये पत्र में कहा गया था की किस तरह रेल पुलिस और आरपीएफ द्वारा बिना बुक सामान एवं सब्जी,गठरी-मोटरी वालों से प्राइवेट गुर्गे रखकर वसूली किया जाता है