खतरा :कटाव तेज,रेल पटरी से 28 मीटर दुर नदी !

2573
फनगो हाल्ट के समीप नदी का कटाव तेज (फोटो-ब्रजेश)

सहरसा (ब्रजेश भारती) : पिछले दिनों से मानसुन कि हो रही लगातार बारिश व नेपाल प्रभाग में जलवृद्धि के कारण कोशी नदी के जलस्तर में काफी वृद्धि हो गई हैं। वही कोशी बैराज से भी पानी का डिस्चार्ज बढ़ा दिया गया है इन सभी कारणों से पूर्व मध्य रेलवे के सहरसा मानसी रेलखंड के फनगो हाल्ट के समीप नदी का कटाव तेज हो गया हैं। वुधवार को हाल्ट के आसपास नदी कि दुरी मात्र 28 मीटर रह गई है|साथ ही नदी का कटाव काफी तेज देखा गया,अगर समय रहते रेल प्रशासन कि कुंभकर्णी निंद्र नही टुटी तो तो रेल परिचालन पर असर पड़ जाये तो कोई आश्चर्य नही होनी चाहिये।

फाइल फोटो
फाइल फोटो
इस तरह ट्रैक के करीब है नदी (फाइल फोटो)
इस तरह ट्रैक के करीब है नदी (फाइल फोटो)

जलस्तर में कमी कटाव में वृद्धि-

आसपास रहने वाले ग्रामीणों का कहना है कि कुछ दिनों से नदी में पानी का स्तर घटा था जैसे ही पानी का स्तर घटता है नही का कटाव तेज हो जाता है चुकिं कोशी का पुरानी परंपरा है कि जब पानी नही किनारे को छोड़ देती है तो कटाव तेज कर देती है।फिर बारिश हुई है पानी बढ़ेगा तो कटाव रूक जायेगी।

काटव निरोधी कार्य है बंद-

फाइल फोटो
         फाइल फोटो

वुधवार तक इस रेलखंड के किसी भी प्वांट पर कटाव निरोधी कार्य नही चल रहा था । स्थानिय ग्रामीणों ने बताया कि इस वक्त कार्य बंद किया हुआ है जब पानी काफी बढ जायेगा तब कार्य शुरू होगा ताकि बोल्डर पानी में बह जाये तो उसका हिसाब देना नही पड़ेगा। ग्रामीणों के मुताबिक अगर अभी कार्य किया जाऐ तो इस रेलखंड पर कभी खतरा नही मंडरा सकता हैं।

कटाव व बचाव का खेल है पुराना-

इस रेलखंड पर बाढ के समय कटाव व बचाव का खेल लंम्बे समय से चलता आ रहा हैं इस खेल में रेलवे को करोड़ों का नुकसान सभी लोगों कि मिलीभगत से चलता आ रहा है जब कार्य करनी चाहिये उस वक्त कोई ध्यान नही देता जब परिचालन पर खतरा मंडराने लगता है तो करोड़ो रूपये पानी में बचाव के नाम पर बहा दिये जाते हैं।