करेंट लगने से दुधारू पशु की मौत !

1258
मृत भैंस

मधेपुरा (संजय कुमार सुमन) : दशकों पूर्व लगाये गये चौसा में बिजली के तार नहीं बदले जाने से अब तक दर्जनों जान-माल की क्षति हो जाने के बाद भी बिजली विभाग की कुभकर्ण नींद नहीं टूट पाई। इसी कड़ी में आज शुक्रवार की सुबह फुलौत में बिजली के तार टूट कर गिर जाने से एक दुधारू भैंस की मौत हो गई। इस घटना से आमलोगों में बिजली विभाग के प्रति आक्रोश देखा जा रहा है।
बताया जाता है कि फुलौत पूर्वी वार्ड नंबर दो निवासी अरविन्द यादव अपने भैंस को लेकर चारे के लिए जा ही रहे थे कि मध्य विद्यालय पास टूट कर गिरे बिजली के तार के झटके लगने से मौके पर ही भैंस की मौत हो गई। भैंस दुधारू था जिसकी कीमत करीब 65 हजार बतायी जाती है। बिजली के झटके से भैंस की मौत पर अरविन्द यादव काफी चिंतित है। वे कहते हैं कि गाय भैंस पाल कर अपनी आजीविका चलाते हैं। इतना किमती भैंस के मर जाने से मानो मुझ पर पहाड़ ही टूट पड़ा। घटना से आमलोगों में जबरदस्त आक्रोश देखा जा रहा है।
मालूम हो कि चौसा के विभिन्न क्षेत्रों में बिजली विभाग द्वारा जर्जर एवं पुराने तार को अब तक बदला नही गया है। जिसके कारण प्रत्येक दिन कहीं ना कहीं तार के टूटने की सूचना मिलती है। तार के बराबर टूटने से भारी पैमाने पर जान माल की क्षति हो रही है। बिजली विभाग द्वारा टेक्नो कंपनी को तार बदलने की जिम्मेवारी दी गई थी। पिछले साल कुछ स्थानों का तार बदल कर कार्य को आनन फानन में पूरा कर दिया जिसका खामियाजा आमलोग भुगत रहे हैं।