एक दिवसीय आपदा प्रशिक्षण कार्यशाला आयोजित !

550

मधेपुरा/चौसा (संजय कुमार सुमन) : आपदा  प्रबंधन प्राधिकरण के सौजन्य से प्रखंड संसाधन केन्द्र चौसा परिसर में आपदा प्रशिक्षण कार्यशाला का आयोजन किया गया। कार्यशाला में संकुलवार विद्यालय के शिक्षकों को शामिल कर आपदाओं से कैसे बचें और बच्चों को कैसे बचायें का प्रशिक्षण माॅक ड्रिल कर दिया गया।
प्रशिक्षक प्रभाष कुमार यादव एवं संजय कुमार ने कहा कि आपदा एवं इससे बचाव के विषय में शिक्षकों एवं बच्चों का जागरूक होना बहुत ही महत्वपूर्ण है। थोड़ी सी चूक नुकसान देह होता है। विद्यालय के बच्चे हमारे बच्चे हैं। इसके बचाव एवं उपाय का ख्याल रखें और आपदा की जानकारी एक दूसरे को शेयर करें। हमारे समाज में जागरूकता का घोर अभाव है। कोशी जाॅन भूकंप का मुख्य केन्द्र है। इसलिए प्रशिक्षण को सही तरीके से लेकर अमल करने की आवश्यकता है।
प्रशिक्षक ने विभिन्न विद्यालयें से आये शिक्षकों को भूकंप आने पर एवं बाद में की जाने वाले गतिविधि पर विस्तृत रूप से चर्चा की। उन्होंने कहा कि यदि विद्यालय समय में भूकंप आ जाये तो सबसे पहले बच्चों को सुरक्षित विद्यालय से बाहर निकाल कर सुरक्षित स्थान पर ले जायें। विद्यालय समय में बच्चों का भरपूर ख्याल रखें। अपने वर्ग कक्ष को सुसज्जित रखें। उन्होने भूकंप के वक्त यदि आप घर में या इमारत के अंदर हैं,यदि आप घर के बाहर हैं और भूकंप के झटके रूक जाने के बाद बरती जाने वाली सावधानियों पर विस्तृत रूप से प्रकाश डाला। इसके अलावे आग एवं बाढ जैसी आपदा पर भी चर्चा की।
प्रशिक्षण में पंकज कुमार भगत,दिनेश राम,सुनीता कुमारी,सबरी कुमारी,मंजीत कुमार,शंभू यादव समेत दर्जनों शिक्षको ने भाग लिया। मौके पर बीआरपी रामप्रकाश रेणु,राजीव कुमार आदि उपस्थित थे।