शिक्षकों की अनदेखी कर रही है राज्य सरकार : सुर्दशन

1055

सहरसा (ब्रजेश भारती) : अनुमंडल के सलखुआ प्रखंड कार्यालय परिसर में शनिवार को बिहार राज्य प्रारंभिक शिक्षक संघ के आह्वान पर सलखुआ प्रखंड इकाई के शिक्षकों ने विभिन्न मांगों को लेकर एक दिवसीय धरना दिया।

कार्यक्रम कि अध्यक्षता प्रखंड अध्यक्ष सुर्दशन कुमार गौतम एवं अशोक कुमार सिंह के संचालन में चली धरना को वक्ताओें ने विभिन्न मांग को लेकर संबोधित किया। प्रखंड अध्यक्ष श्री गौतम ने संबोधित कर कहा कि सरकार शिक्षकों की मांग को अनदेखी कर रहे है। उन्होंने कहा कि राष्ट के मुख्यधारा शिक्षा व गुणवत्तापूर्ण शिक्षा के वाहक शिक्षक राज्य सरकार की उदासीनता रवैया के कारण आर्थिक मानसिक एवं शारीरिक प्रताड़ना के शिकार बनते जा रहा है। समय पर वेतन नहीं मिलना. सरकार शिक्षकों की समस्या का निदान करने के बजाय तुगलगी फरमान जारी कर शिक्षकों को दलदल में फसा रही है। शिक्षकों को सामाजिक स्तर पर अपमान सहना पर रहा है। वहीं एक शिष्टमंडल ने विभिन्न मांग को लेकर मुख्यमंत्री बिहार सरकार पटना के नाम एक स्मार पत्र प्रखंड विकास पदाधिकारी विभेष आन्नद को सर्मपित किया।दिये स्मार पत्र में कहा है कि नियोजित शिक्षकों को सरकार के नई संरचना का वेतनमान दिया गया है। जिसके बेहतर परिकल्पना सेवा सर्त के लिए उच्च स्तरीय कमिटी समय सीमा के तीन माह बीतने के बावजूद सेवा शर्त का संपूर्ण निर्घारण नहीं हो सकी है।

क्या है शिक्षकों की मांग :-

सेवार्शत का निर्धारण करते हुए शिक्षको को जिला संवर्ग में किया जाय. तथा समान काम के समान वेतन लागु किया जाय. सेवा में रहे अप्रशिक्षित शिक्षकों को ग्रेट पे दिया जाय. प्रशिक्षित शिक्षकों के ग्रेट पे के मामले में दो वर्षो की वाध्यता समाप्त किया जाय सहित 14 सूत्री मांग को लेकर स्मार पत्र सर्मपित किया गया।

मौके पर जिलाध्यक्ष निरंजन कुमार. जिला संयुक्त सचिव मो० माहिर अली.उपाध्यक्ष  कैलाश पासवान. उदित कुमार यादव. सूर्यनारायण कुमार. कोषाध्यक्ष मो० सादिक आलम.सचिव मनोज कुमार.उपाध्यक्ष मुकेश कुमार.रंजीत कुमार. नरेश पासवान. मो० मेराज आलम. पंकज कुमार चौधरी. संजय कुमार . दिलीप पासवान.मो० मुर्तजा अली. किरण सिन्हा.मधुमाला कुमारी.शिवरानी कुमारी.सुचित्रा कुमारी.मनोज कुमार रविन्द्र कुमार.चंदन कुमार .विनोद कुमार.प्रमोद राम.ओमप्रकाश भारती.रूपेश कुमार.जितेन्द्र कुमार समेत अन्य शिक्षक शिक्षिका मौजुद थे।