बिहार में सड़क के इस हाल को देखकर गर्व से सीना चौड़ा हों जायेगा तेजस्वी यादव का !

1302

सहरसा (kx desk) : बिहार के छपरा जिले के एक ऐसे रूट के बारे में बताते है जिसपर पैदल तो छोडिये गाढ़ी वाले भी जाने से डरते है. हम बात कर रहे है छपरा के नगरा-जलालपुर व नगरा-गड़खा सड़कों के बारे में. यह स्थिति सालों से है और विभाग जान कर भी इन सड़को को भगवान भरोसे छोड़ दिया गया है.

रोड का स्पेशल रिपोर्ट.

इस सड़क में कई स्थानों पर सड़क इतनी खतरनाक हो चुकी है कि बारिश के समय में तो जगह जगह पर पानी का जल जमाव लग जाता है इस रोड पर चलनेवालों को कलेजा थाम लेना पड़ता है. नगरा चौक से जलालपुर रोड में गुजरनेवाले अक्सर ट्रैक्टर, बस, टेंपो, जीप, कमांडर, ट्रक आदि गड्ढ़े में फंस जाते हैं. जहाँ तेजस्वी यादव सड़कों के चौरीकरण की बात कर रहे है वहीं बिहार में कई ऐसी सड़के है जो बिहार को शर्मसार कर रही है.

विभाग शायद किसी बड़ी दुर्घटना का इंतजार कर रहा है. दशकों से इस सड़क का जीर्णोद्धार नहीं हो पाया है. इस रोड पर पिच का नामोनिशान मिट चुका है. बरसात के मौसम में गड्ढों में पानी भर जाने के बाद वाहन चालकों को पता ही नहीं चलता है कि कहां कितना गड्ढा है. कहां गड्ढा है, कहां समतल.
सड़क पर चलने के बजाय लोग पगडंडी पर चलना ज्यादा सुरक्षित समझते हैं. इस सड़क से रोजाना आने-जाने वालों की संख्या आज भी कम नहीं है. कोई सरकारी, तो कोई निजी काम से और कोई कुछ सामान खरीदने और कोई सामान बेचने आता-जाता रहता है. कभी-कभी सड़क के गड्ढों के बीच की सड़क पर बार-बार बचने की कोशिश में हादसे हो ही जाते हैं. सड़क का निर्माण नहीं होने से लोगों में काफी नाराजगी है.

(श्रोत-whats apps )