ताड़ी उतारने के क्रम में पेड़ पर से गिरने पर हुई मौत !

2314

सहरसा (ब्रजेश भारती) : बख्तियारपुर थाना क्षेत्र के सिमरी पंचायत के सिमरी बाजार निवासी जहरू चैधरी कि मौत रविवार कि सुबह ताड़ के पेड़ से गिर कर हो गई। ताड़ी उतार कर पेड़ से उतरने के क्रम में पैर फिसल जाने के कारण नीचे जमीन पर गिरने से मौत हो गई। वृद्ध कि मौत हो जाने के बाद पत्नी बिल्शी देवी का रौ रौ कर बुरा हाल हैं।

60 वर्षीय मृतक वृद्ध ताड़ी बेचकर अपना व पत्नी का पेट पालता

WhatsApp-Image-20160612 (1)

घटना के संबंध में पत्नी बिल्शी देवी ने बताया कि सुबह घर के बगल वाले ताड़ के पेड़ पर ताड़ी उतारने के लिये चढ़ा था ताड़ी उतार कर पेड़ से नीचे उतर रहा था कि अचानक पैर फिसल गया वे जमीन पर धम्म से आ गिरे वही उसकी मौत गिरने के साथ ही हो गई।भरा पुरा परिवार रहने के बाबजूद अलग जीवन व्यतित करता था वृद्ध दम्पती- मृतक जहरू चैधरी का एक भरा पुरा परिवार है दो बेटा 40 वर्षीय मनोज चौधरी व 35 वर्षीय सनोज चैधरी एवं एक बेटी है जो शादी शुदा जीवन अपने ससुराल में व्यतित करती है नाती पौता वाला हजरू चैधरी ताड़ी बेचकर अपना व अपनी पत्नी बिल्शी देवी का जीवन पालता था दोनों पु़त्रों में किसी के साथ नही रहता था जहरू चैधरी। जब से सरकार ने ताड़ी पर प्रतिबंध लगाया था ताड़ी मंहगी बिकने लगी थी,चार पांच ताड़ का ताड़ी किसी तरह इस उम्र में भी उतार कर परिवार चलाता था।उसकी मौत हो जाने के बाद पत्नी बिल्शी देवी पर पहाड़ टुट परा हैं। पत्नी बिल्शी मृत अपने पति को आगोश में लेकर इस कदर रूद्रण कर थी कि आसपास के लोगों के आंखे भी नम हो जा रही थी। आसपास के ग्रामीणों का कहना था कि खाया पीया शरीर था इस उम्र में भी गबरू जवान जैसा दिखता था मृतक जहरू,चार पांच तार का पेड़ तो देखते देखते चढ़ जाता था आज होनी को कुछ और कि मंजूर था जीवन भर ताड़ के पेड़ से ताड़ी उतार कर जीवन विताया आज उसी तार के पेड़ से गिर कर मौत के आगोश में सदा के लिये सो गया।