शिक्षा विभाग में व्याप्त भ्रष्टाचार के खिलाफ 11 को शिक्षकों का महाधरना – पंकज

1224

सुपौल :शिक्षा बिभाग में व्याप्त कुव्यवस्था को लेकर शिक्षक अब आन्दोलन करने को विवश दिख रहे है | मिली जानकारी के अनुसार आगमी 11 जुन को जिले के सभी शिक्षक अपने सरकार से मिलने वाले अधिकार को लेकर धरना-प्रदर्शन करने को मजबूर हो रहे है | संघ के जिला अध्यक्ष पंकज कुमार सिंह ने जानकारी देते हुए कहा की  शिक्षक साथियों,सरकार और सरकार के मातहत द्वारा शिक्षको के अधिकारो को संकुचित कर प्रताड़ित करने की गंभीर साजिश लगातार की जा रही है,ताकि बिहार के शिक्षक पूर्ण वेतनमान के लिए मानसिक रुप से तैयार ही न हो।

13394024_1735371930068280_6695129924627837070_n

इस आंदोलन के माध्यम से सरकार और सरकार के भ्रष्ट शिक्षा पदाधिकारी को एक मजबूत संदेश देंगे कि आप शिक्षकों को प्रताड़ित कर शिक्षा व्यवस्था को दुरुस्त नहीं चौपट कर रहे हैं।और अगर आप इस मुगालते में है कि जाँच का हंटर दिखा कर शिक्षकों को डरा देंगे तो आप गलतफहमी के शिकार हो रहे हैं।सचमुच अगर आप बिहार की शिक्षा व्यवस्था के प्रति गंभीर है तो हमारी आवाज सुनिए और शिक्षकों को जिला संवर्ग के शिक्षक का दर्जा देकर सरकारी शिक्षक की भ्रांति सुविधा प्रदान कर एक अच्छे माहौल का निर्माण किजीए,जहाँ शिक्षक अपने भविष्य की चिंता नहीं,अपितु गिरती हुई शिक्षा व्यवस्था के सुधार हेतु दिन रात सोचे।

13417474_1735371246735015_1371030527603495056_n

इस महाधरना के माध्यम से हम सभी शिक्षक सरकार और समाज को बताएँगे कि बिहार की शिक्षा व्यवस्था कैसी है?नये सत्र का दो माह बीत जाने के बाद भी बच्चों को किताब नही मिला है।कैसे विद्यालय में पठन-पाठन होगा?तीन -चार माह से शिक्षकों को वेतन नही मिला है।कैसे वो अपनी बुनियादी जरुरत को पुरा करेंगे?ऐसे कई गंभीर सवालो सहित शिक्षको के अस्तित्व को बचाने के लिए 11जून 16 को जिला शिक्षा कार्यालय परिसर में महा धरना कार्यकर्म का आयोजन किया गया है |श्री सिंह ने अपील करते हुए समाज के तमाम बुद्धिजीवियों से अनुरोध किया है की  बिहार की शिक्षा व्यवस्था के सुदृढ़ि हेतु आहुत इस आन्दोलन में अपना सहयोग और सकारात्मक मार्गदर्शन देने की बात कही | 

(सभी तस्वीर फाइल )