प्रखंड प्रमुख पद के लिए जोड़-तोड़ शुरू !

1122

मधेपुरा/चौसा(संजय कुमार सुमन):त्रिस्तरीय पंचायत निर्वाचन के तहत सभी पदों के परिणाम आ जाने के उपरांत प्रखंड प्रमुख के चुनाव की तैयारी आकार ले रही है। संभावित प्रत्याशी पंचायत समिति सदस्य के दरवाजे दस्तक देने लगे हैं तो किससे किसकी बात बन जाएगी ऐसे लोगों को कार्य पर लगाया जा रहा है। पंचायत समिति सदस्य पद के परिणाम की खास बात यह रही कि 17 समिति पदों के लिए हुए मतदान का परिणाम चौंकाने वाला आया है। सभी चेहरे नए हैं। जिसमें चौसा पूर्वी से शम्भू प्रसाद यादव,डोली देवी,चौसा पश्चिमी से पार्वती देवी,घोषई से शशि कुमार दास,रसलपुर धुरिया से अभिषेक दत्त,दिनेश शर्मा,पैना से संजय कुमार,कैशर खातून,चिरौरी से राजकुमार साह,मोरसंडा से मुकेश कुमार,फुलौत पूर्वी से आरजू खातून,फुलौत पश्चिमी से अर्जुन राय,लौआलगान पूर्वी काला देवी,लौआलगान पश्चिमी से रानी भारती,अरजपुर पूर्वी से पवन कुमार गुड्डू,रुखसार खातून,अरजपुर पश्चिमी से अनिता देवी समिति पद से चुनाव जीत कर आये हैं। शम्भू प्रसाद यादव पूर्व प्रमुख रह चुके हैं। अब प्रमुख पद पर आसीन होने के लिए गोलबंदी का दौर आरंभ हो चुका है। दिग्गजों के दिमाग भिड़ रहे हैं तो पंचायत समिति सदस्यों से शिकवे-गिले गिनाए जा रहे हैं तो पकड़ से पकड़ को मजबूत किया जा रहा है। प्रमुख की कुर्सी को लेकर शुरू हुए संपर्क के दौर पर आम लोगों में यह खास चर्चा है कि पूर्व की भांति फिर से’जिसके हाथ में होगी लाठी भैंस वही ले जाएगा, वाली कहावत चरितार्थ होगी और जीतकर आए योग्य नजरअंदाज होंगे। वहीं चर्चा इस बात की भी कि विजयी होकर आए अधिकांश सदस्य नए हैं जिन्हें मतदाताओं के अपेक्षाओं पर खरा उतरना है सो धनबल की कोशिश नाकाम होगी। यद्यपि अभी तो प्रारंभिक दौर है और आगे-आगे समय करवट भी लेगा सो हवा के रूख को भांपने वाले ज्ञानी मौन मुद्रा में हैं। अभी तक प्रमुख चुनाव में धनबल ही हावी रहा है।जो प्रमुख प्रत्याशी जितनी अधिक धन समिति को दिया वही प्रमुख कुर्सी के दावेदार रहें।