कैसरे हिन्द की जमीन पर अवैध बना पक्का मकान !

1969

सहरसा/सिमरी बख्तियारपुर (ब्रजेश भारती) : इस प्रखंड में अवैध रूप से सरकारी जमीन को हड़प उस पर पक्का मकान बनाने के साथ अवैध कब्जा आम बात हो गई है वही बहुचर्चित 391 खाते कि खेसरा 1071 रकबा 1 बीधा 5 कटटा 4 धुर का मामला जांच में ही है कि फिर इसी खाते कि एक जमीन 4272 गुदरीहाट कि जमीन पर अबैघ रूप से अतिक्रमण कर उस जमीन पर पक्का मकान बना देने कि बात सामने आई हैं। इस संबंध में रानीबाग भटटा टोला निवासी मो नुरूल्लाह ने एक लिखित आवेदन सिमरी एसडीओं सुमन प्रसाद साह को देकर जांच कि मांग कि हैं।

  • सिमरी एसडीओं को आवेदन देकर कब्जा हटाने कि लगाई गुहार
  • बहुचर्चित खाता 391 के खेसरा 4272 गुदरीहाट का मामला

दिये गये आवेदन में आरोप लगाया गया है कि उपरोक्त जमीन पर बाजार निवासी मो समसूल होदा,मो नूरूल होदा,मो जियाउल होदा,रियाजुल होदा ने उक्त जमीन पर अबैध कब्जा कर उस जमीन पर पक्का मकान बना कर दुकान खोल लिया हैं। जबकि उस जमीन पर अतिक्रमण वाद 03/92-93 अनुमंडल दण्डाधिकारी सिमरी बख्तियारपुर के न्यायाल में अतिक्रमणकारीयों पर चल कर जमीन खाली करने का आदेश पारित किया गया था।दिये गये आवेदन में यह भी कहा गया कि इससे पूर्व खाता 392 खेसरा 1788 गैर मजरूआ आम सड़क कि जमीन को अतिक्रमण कर लेने कि शिकायत किये जाने पर अंचलाधिकारी के द्वारा अतिक्रमण वाद 07/11-12 चला कर जमीन को खाली कराया गया था। मो नुरूल होदा पर जाली दस्तावेज बनाने का आरोप लगाया गया हैं। इस आरोप के संबंध में मो नूरूल होदा से पुछे जाने पर बताया कि हमलोगों के द्वारा सरकारी जमीन का अबैध कब्जा नही किया है कौन सरकारी जमीन पर मकान बनाया है मामलू नही हैं।

वही सिमरी एसडीओं सुमन प्रसाद साह से पुछे जाने पर बताया कि आवेदन प्राप्त हुआ है मामला सरकारी जमीन का है कागजात का अवलोकन किया जा रहा है विधि संमत कार्यवाही कि जायेगी।