कोशी प्रमंडलीय स्वास्थ अपर निदेशक ने जप्त दवाई की जांच को भेजा दल !

1172

सहरसा/सिमरी बख्तियारपुर ( ब्रजेश/बिनोद ) : एक तरफ सरकारी अस्पताल में दवाई नही मिल रही है तो दुसरी तरफ अगर दवाई है भी तो उसे मरीजो को नही देकर रखा रखा एक्सपायर करा दिया जा रहा है आखिर इसका दोषी कौन है ? क्या विभाग के वरीय पदाधिकारी इस बात की जांच कर दोषी को सजा देंगे ? सोमवार को सिमरी बख्तियारपुर अनुमंडलीय अस्पताल से चौधरी टोला होते हुऐ ठिकाने लगाने के लिए ले जा रहे दवाइयों से भरे एक ठेला को जब्त ग्रामीणों के द्वारा कर बख्तियारपुर पुलिस के हवाले कर दिया गया था |

WhatsApp-Image-20160515

इसी मामले को जांच के लिये मंगलवार को कोशी डिवीजन के क्षेत्रीय अपर निदेशक शशि भूषण प्रसाद शर्मा के आदेश पर एक जांच दल बख्तियारपुर पहुंचा.जांच दल ने मंगलवार दिन भर ठिकाने लगाने की मंशा से गायब किये जा रहे दवाइयों की जांच-पड़ताल की.रविवार को ठिकाने लगाने के मकसद से ठेले पर लाद बोरे मे भरकर ले जा रही दवाइयों के बोरे को जब मंगलवार को बख्तियारपुर थाने मे खोला गया तो जांच टीम के भी होश उड़ गये |

WhatsApp-Image-20160515 (1)

सिमरी बख्तियारपुर अनुमंडलीय अस्पताल से ठेला पर लाद कर ले जा रहे दवाई को पुलिस ने किया था जप्त।

बड़े पैमाने पर अस्पताल में रखा रखा एक्सपायर हो गई दवाई।

इतनी बड़ी मात्रा मे ठूस-ठूस कर भरे इन दवाइयों की कीमत लाखो मे बताई जा रही है.

हेल्थ मैनेजर विजय कुमार के सामने सहरसा से पहुंची जांच टीम से जुड़े क्षेत्रीय लेखा प्रबंधक विवेक चतुर्वेदी ने हर बोरे की जांच की,क्षेत्रीय लेखा प्रबन्धक ने बताया कि दवाइयों की गणना कर यह जांच की जा रही की यह दवाइयों अनुमंडलीय अस्पताल की थी या कही और से आई थी.उन्होंने कहा कि पुरे मामले की सघन जांच जारी है.वही नगर पंचायत अंतर्गत चौधरी टोला से जब्त की गई दवाइयों मे लगभग बीस प्रकार की दवाई है.जिनमे पेरासिटामोल , पेरासिन ड्रॉप , हाईड्रो क्वाटिसोन, डॉम प्री डॉम सीरप , गामा बेंजिम हेक्सा क्लोराइड लोशन , डैक्सा मेथा सोन इंजक्शन, सहित अन्य दवाइयां बरामद की गई.वही बख्तियारपुर पुलिस द्वारा जब्त कई बोरे दवाइयों मे बीना-एक्सपायरी दवाई सटिरिल वाटर फॉर इंजेक्शन पर पड़ी,जो दिसम्बर 2016 मे एक्सपायर होंगी। लोगो के बीच चर्चा का विषय बना हुआ है कि जो दवाई एक्सपायर नही हुई थी वह कहां जा रही थी क्या एक्सपायर के नाम पर कुछ ओर तो मामला नही है।