मिडिया में खबर आते ही 391 खाते की जमीन की दिनभर चौक-चौराहों से लेकर चाय-पान की दुकानों होती रही चर्चा !

3369
फोटो -सांकेतिक (फाइल )

सहरसा (ब्रजेश भारती)बुधवार कि देर शाम एवं गुरूवार कि सुबह जैसे ही आमजनों में बख्तियारपुर मौजा के खाता 391 जमीन को सिमरी बख्तियारपुर एसडीओं के द्वारा जांच के आदेश दिये जाने कि बात सोसल मिडिया एवं प्रिंट मिडिया के माध्यम से जानकारी में आई। आमजनों से लेकर जिन जिन लोगों ने इस खाते कि जमीन खरीदी थी उसके बीच चर्चा होने लगी कि क्या बात हैं क्या सही में इस खाते कि जमीन में कोई उलझन तो नही हैं। जितनी मुंह उतनी बाते पान दुकान से लेकर चाय कि दुकान पर होती रही। कोई 391 खाते कि जमीन को सरकारी जमीन बता रहा था तो कोई रैयती जमीन सभी लोग अपने अपने हिसाब से दावा कर रहे थें वही कुछ लोगों का कहना था कि जब जांच का आदेश हो गया है तो सच्चाई सामने आ ही जायेगी। वही जिन जिन लोगों ने इस खाते कि जमीन लाखों रूपये लगा कर जमीन खरीदी थी उनके बीच बैचेनी साफ देखी गई।

इस बीच सिमरी एसडीओं सुमन प्रसाद साह ने बताया कि इस खाते में करीब 1 सौ 93 एकड़ जमीन हैं,खेसरा पंजी एवं रिर्टन के कागजात से सत्यापन करा कर जितनी भी सरकारी जमीन होगी उसको चिन्हित किया जायेगा।
कब होगा बख्तियारपुर मौजा का सर्वे फाईनल सिमरी बख्तियारपुर अनुमंडल के तीन प्रखंडों में दो प्रखंड सलखुआ एवं बनमा-ईटहरी का सर्वे फाईनल हो गया है वही बख्तियारुपर प्रखंड कुछ पंचायतों का भी सर्वे फाईनल हो गया है लेकिन सबसे महत्वपूर्ण नगर पंचायत के आसपास बख्तियारपुर मौजा सहित करीब एक दर्जन से अधिक पंचायतों का सर्वे आज तक फाईनल नही हो सका है जबकि यह सर्वे 50 वर्ष पुर्व ही हुआ हैं।
नोट फाईनल बना भूमाफियाओं का हथिया बख्तियारपुर मौजा सहित आसपास के मौजा कि जमीन का सर्वे नोट फाईनल ही भूमाफियाओं का अहम हथियार बना हुआ हैं। 114 वर्ष पूर्व के सर्वे पर ही आज भी जमीन कि खरीद एवं बिक्री हो रही हैं। रैयतों के पास इतने पुराने जमीन के कागजात नही के बराबर बचा हुआ हैं। वही पुराना सर्वे का कागजात सरकारी कार्यालय में भी सुरक्षित नही है इस बात का फायदा उठा कर भूमाफिया किसी भी उलझन वाली जमीन का फर्जी कागजात बना कर जमीन को आनै पौने दामें में बेच रातो रात करोड़ बन रहे हैं। अंग्रेज के जमाने में ही सन 1902 ई में यहां सर्वे हुआ था उसके बाद आजाद भारत में 60 के दशक में सरकार ने सर्वे कराया था लेकिन आजतक सर्वे नोट फाईनल कर कार्यालय के फाईलो में रखा हुआ हैं।

क्या है 391 खाता पढने के लिए क्लिक करे …… http://koshixpress.com/2016/05/11/zamin-391-simri-sdo/