एक साथ दो अर्थी निकली घर से,छाया मातमी सन्नाटा !

1733
फोटो - घटना के बाद से घर मे मातम पसरा है

सहरसा (ब्रजेश भारती ) : प्रखंड के कोपड़िया गाँव मे मंगलवार रात्रि सांप काटने से माँ-बेटे की मौत हो गई.घटना उस समय घटी जब परिवार के सभी सदस्य घर मे जमीन पर सोये थे.वही घटना के बाद से पुरे गांव मे मातमी सन्नाटा छाया हुआ है।
सांप काटने का एहसास ना होने से हुई बच्चे की मौत
मंगलवार रात्रि कोपड़िया गाँव मे हीरो रजक का परिवार जब नींद के आगोश मे था उसी दौरान सभी को मीरा देवी के चिल्लाने की आवाज आई.अचानक चीख की आवाज से सभी की नींदे टूट गई.नींद टूटने के पश्चात सभी ने देखा की हिरा रजक की पत्नी दर्द से तड़प रही है.हिरा देवी ने कराहते हुए बताया कि उसे और उसके बेटे राजीव को सांप ने काट लिया.परन्तु, राजीव ने सांप के काटने से इंकार किया. जिसके बाद आनन-फानन मे बेटे अर्थात राजीव को छोड़ सभी राजीव की माँ मीरा देवी को सलखुआ पीएचसी ले गये.जहाँ प्राथमिक उपचार के बाद मीरा देवी को सहरसा रेफर कर दिया गया.इधर, गाँव मे बच्चे की भी तबियत बिगड़ने लगी और उलटियाँ होने लगी और आख़िरकार सुबह दस बजे दस वर्षीय राजीव ने दम तोड़ दिया.वही चार घंटे बाद सुबह दस बजे सदर अस्पताल मे डॉक्टर के लाख प्रयास के बावजूद 35 वर्षीय मीरा देवी भी मौत के आगोश मे चली गई |

तस्वीर :सांकेतिक
तस्वीर :सांकेतिक

परिवार मे छाया मातम
बुधवार शाम सलखुआ प्रखंड के कोपड़िया गाँव से निकली दो अर्थी देख पुरे गाँव मे मातम छा गया.वही घटना के बाद से मृतका मीरा देवी के दो बच्चे राजा और संजीव का भी रो रो कर बुरा हाल है.उन्हें विश्वास नही हो रहा है की उनकी माँ और उनका भाई इस दुनिया मे नही रहा.वही मृतका मीरा देवी की माँ और मृतक राजीव की नानी मीणा देवी भी घटना की सुचना पर आनन-फानन मे बुधवार दोपहर कोपड़िया पहुंची.मीणा देवी फफकते हुए बताती है कि कल रात ही उनकी अपनी बेटी और नाती से बात हुई लेकिन उसे क्या मालूम था की अगले दिन ही ऐसा हो जायेगा.घटना के बाद से सांप काटने से मौत के मुंह मे समां गये राजीव की दादी का रो रो कर बुरा हाल है.ग्रामीणों ने बताया कि हीरो रजक एक ईमानदार छवि का व्यक्ति है और मजदूरी कर जिन्दगी गुजार रहा है.उसकी पत्नी मीरा देवी भी मिलनसार स्वाभाव की धनी थी.परन्तु, ऐसा घटना हो जायेगा यह किसी को उम्मीद नही थी.