खुद के अपहरण की साजिश को पुलिस ने किया नाकाम !

839
पुलिस गिरफ्त में व्यपारी

चंद पैसों की लालच में एक व्यापारी ने अपने ही अपहरण और लूट की साजिश रच डाली। लेकिन चार घंटे में ही पुलिस ने उसके इस नाटक का पर्दाफाश करते हुए गिरफ्तार कर लिया।

कटिहार– (desk) बता दें ​कि मक्का व्यवसायी मंटू घूम घूमकर किसानों से मक्का की खरीददारी करता था और किसानो से उधार में खरीदी गई फसल को मंडियों में बेचकर किसानों की राशि के घर तक पहुंचाता था। लेकिन जब इसका काम चल निकला तो लालच में आकर अपने ही अपहरण की साजिश रचकर किसानों के पैसे हडपना चाहता था। मंडी से वापस लौटने के दौरान रास्ते में ही कोढ़ा थानाक्षेत्र के NH31 के किनारे अपनी बाइक को खडाकर परिजन को मोबाइल से सूचना दिया कि बदमाशों ने एक लाख 20 हजार रुपए लूट लिए और मेरा अपहरण कर लिया है। इस खबर से किसान और परिजन चिंतित हो गए और पुलिस को सूचना दी। पुलिस ने परिजन के साथ घटना स्थल पर पहुँचने के बाद छापेमारी शुरू कर दी। चार घंटे तक लगातार छापेमारी की कार्रवाई चलती है। इस दौरान पुलिस ने साइबर सेल की मदद से मंटू के मोबाइल की लोकेशन पता कर उसके पास पहुंच गई। पुलिस की कडी पूछताछ में खुद मंटू ने स्वीकार किया कि दर्जनों किसानों का पैसे मेरे पास थे, मुझे इन रुपयों की जरुरत थी इसलिए खुद के अपहरण का नाटक किया था। पुलिस ने मिटटी में गाड़ कर रखे रुपयों को भी बरामद कर लिया और मंटू को गिरफ्तार कर न्यायिक हिरासत में भेज दिया है। साजिशकर्ता अपराधी पकडा गया है और रूपए भी बरामद हो गए लेकिन घाटे में तो किसान ही रह गए। क्योंकि उन सभी का बकाया रुपया तो मिला नहीं मिल पाया |