सहरसा : सदर थाना भयादोहन और भ्रष्टाचार का अड्डा बन गया है – लवली आनंद

2501
पुर्व सांसद लवली आनंद व आनंद मोहन (फोटो- फाइल)

क्या है पुरी घटना –

मृतक राजद नेता
मृतक राजद नेता

बीती शनिवार की रात्रि युवा राजद के जिलाध्यक्ष 40 वर्षीय शयाम सुंदर दास तांती की अज्ञात हमलावरों ने गोली मारकर हत्या कर दी। घटना रात करीब 11 बजे के बाद की बताई जाती है। घर से लगभग 1 किमी दूर सड़क किनारे खेत में उसकी लाश पुलिस ने देर रात बाद बरामद की ।हत्या के कारणों का खुलासा नहीं हुआ है। परिजनों ने बताया कि जिस समय अज्ञात लोग राजद के युवा अध्यक्ष को बुलाने घर आए थे उस समय वह घर पर अकेले थे और उनकी पत्नी बच्चे बगल गांव में लगे चैती दुगाॅ मेला देखने गए थे।पुलिस ने अहले सुबह शव का पोस्टमार्टम करा परिजनों को सौंप दिया है। पुलिस ने बताया कि हमलावरों ने शयाम सुंदर दास तांती को सीना और सिर में गोली मारी। चेहरा और शरीर पर तेज धारदार हथियार से भी प्रहार के कई निशान है। घटनास्थल पर खून और ईंट के टुकड़े पाए गए हैं

सहरसा- कोशी प्रमंडल मुख्यालय अपराधियों का अभ्यारण बन गया है ,जहाँ आए दिन हत्या,डाका,चोरी.अपहरण,बलात्कार,रंगदारी,छेड़खानी आम बात है,लडकियों से छेड़खानी,सार्वजनिक स्थानों से पलक झपकते मोटरसाईकल का गायब किया जाना और आए दिनों लोगो के घरो में चोरी रोजमर्रे की बात है|

फोटो -फाइल
फोटो -फाइल

शहर में कानून-व्यवस्था नाम की कोई चीज नहीं रह गयी है | शरीफ लोगो का जीना मुहाल हो गया है,सदर थाना लोगो के जान-माल के हिफाजत का नहीं भयादोहन और भ्रष्टाचार का अड्डा बन चूका है |विगत कुछ माह में दर्जनों बेगुनाहो की हत्या हो चुकी है | आम लोग भयाक्रांत है और पुलिस  भू-माफियाओ के संग जमीन हरपो अभियान और एय्याशी में जुटी है |उपरोक्त बातें पूर्व सांसद लवली आनंद ने राजद नेता श्याम सुन्दर तांती की बीती रात हत्या पर अपनी अपनी प्रतिक्रिया में कही | पुर्व सांसद श्रीमती आनंद अपने समर्थको के साथ मृतक राजद नेता के परिजनों से मिलने उनके झपडा टोला स्थित आवास पर शोकाकुल परिजनों को सांत्वना देने पहुंची थी |श्रीमती आनंद ने कहा की जब मुख्यमंत्री लॉ एंड आर्डर के मामले में जीरो टोलरेंस की बात करते है तो फिर कितनी हत्या के बाद दोषी और निकम्मे पुलिस अधिकारियो के खिलाफ कारवाई होगी ?पुर्व सांसद ने आरोप लगाते  हुए पुलिस अधीक्षक से मांग की कि शहर में जो कुछ घट रहा है सबो में स्थानीय पुलिस की मिलीभगत है |हर घटना के बबाद निर्दोष फसाए जाते और दोषी बख्शे जाते है | पुर्व सांसद लवली आनंद ने कड़े शब्दों में कहा कि अगर 48 घंटे के अन्दर राजद नेता के हत्यारे पकड़े नहीं गए और भ्रष्ट एवं निकम्मे अधिकारियो के खिलाफ कारवाई नही हुई तो हम (से0) और फ्रेंड्स ऑफ आनंद के कार्यकर्त्ता सड़क पर उतरकार रोषपूर्ण प्रतिकार करेंगे |