18 साल में दिया 18 बच्चों को जन्म !

1006

रामसिंह और उनकी पत्नी कानू संगोड की 18 साल पहले शादी हुई थी ! इन18 सालों के दौरान कानू संगोड ने हर साल एक बच्चे को जन्म दिया,पर राम सिंह की बच्चों की चाहत अभी भी खत्म नहीं हुई और आज जब उसकी पत्नी इसका विरोध कर रही है तो वह उसे पत्नी को घर से निकालने की धमकी दे रहा है आपको बता दे कि कानू संगोडा के 18 में से 2 बच्चों की मौत अज्ञात बीमारी से हो चुकी है ! ये मामला कहीं और का नहीं बल्कि गुजरात के दामोह का है ! वहीं,अब और बच्चों के लिए मना कर रही उसकी पत्नी का कहना है कि हमें ईश्वर की इच्छा समझ कर इसे स्वीकार कर लेना चाहिए ! उसके मुताबिक उसका शरीर कमजोर हो गया है और उसमें इतनी ताकत नहीं है कि मैं एक और बार गर्भधारण करसके पति चाहता है एक और बेटा पति का कहना है कि समाज में महिला के भाई को अपनी बहन की शादी पर उसके लिए तोहफे,शादी का सामान और बाद में भी अपनी बहन की ससुराल और उसके बच्चों के लिए तोहफे देने पड़ते हैं ! अकेला होने के कारण मेरे बेटे के लिए बहुत मुश्किल हो जाएगा कि वह अपनी सभी बहनों के साथ लेन-देन की रस्म निभा सके। यही कारण है कि मैं चाहता हूं कि उसका एक और भाई हो ताकि दोनों भाई मिलकर जिम्मेदारी पूरी कर सकें,सौतन लाने की धमकी दी थी पति ने जब पत्नी शुरू में 7 प्रेग्नेंसी के बाद भी बेटा पैदा नहीकर सकी तो पति ने उसे छोड़ने की धमकी दी,पत्नी अनाथ और बेसहारा है ! सौतन से बचने के लिए वह लगातार गर्भधारण करती रही1000 लड़कों पर हैं 967 लड़कियां वर्ष 2011 की जनगणना के मुताबिक,दाहोद में जनसंख्या का लैंगिक अनुपात प्रति 1,000 लड़कों पर 948 लड़कियां हैं ! 2001 की जनगणना में यह अनुपात प्रति 1,000 लड़कों पर 967 लड़कियों का था ! रामसिंह और कानू के गांव झरीबुझी में लगभग 100 परिवार रहते हैं ! यहां कई परिवारों में 9 बच्चे हैं !

पत्रकार धर्मेन्द्र सिंह के पेज से ….