सहरसा डीपीएस नवीं की छात्रा का स्कूल गेट से अपहरण !

3060
डी०पी०एस सहरसा स्कूल

सहरसा। सदर थाना के पटुवाहा स्थित डीपीएस स्कूल की नवीं की एक  छात्रा का मंगलवार को हथियार के बल पर अपराधियों ने अपहरण कर लिया। चौदह वर्षीया छात्रा बस से उतरकर स्कूल में प्रवेश करने वाली ही थी कि तभी यह घटना घटी। घटना की सूचना अपहृत छात्रा के दोस्तों और स्कूल बस के चालक ने निदेशक को दी। अपने स्तर से पड़ताल करने के बाद निदेशक ने छात्रा के पिता को घटना की जानकारी दी। अपहृत छात्रा के पिता द्वारा थाना को दी गयी लिखित आवेदन में कहा गया है कि सदर थाना के नरियार निवासी मुर्शीदके पुत्र खुर्शीद ने अपने दोस्तों के साथ हथियार  के बल पर घटना को अंजाम दिया है।

मीडिया को जानकारी देते थानाध्यक्ष 

सहरसा पुलिस कप्तान घटना स्थल स्कूल में जानकारी लेते
सहरसा पुलिस कप्तान घटना स्थल स्कूल में जानकारी लेते

इस घटना के बाद पुलिस महकमे के लोगों के पसीने छूटने लगे |नवनियुक्त एसपी अश्वनी कुमार स्कूल पहुंचकर घंटों बैठे रहे और मामले की छानबीन की। एसपी ने अपहरण की बात को नकारते हुए लड़की के अपने मन से लड़का के साथ जाने की बात बताते हुए कहा की लड़की के पिता को आरोपी लड़का का नाम तक पता है। एसपी ने कहा की जाते समय लड़की द्वारा हल्ला तक नहीं किया गया। वहीँ सदर थाना प्रभारी ने बताया की आवेदन अपहरण करने का है और पुलिस उसी दिशा में काम कर रही है। लड़की के पिता का शहर के मीर टोला में घर है और उसी के इर्द गिर्द आरोपी दुकान करता है। शहर से करीब चार पांच किलोमीटर दूर बने स्कूल के अगल बगल के लोगों का कहना है की अपराधियों में पुलिस का कोई खौफ नहीं है और इसी का परिणाम है की दिनदहाड़े स्कूल के गेट पर से हथियार के नोक पर चौदह साल की लड़की को अगवा कर लिया। सूत्रों ने बताया की जब हथियार देखकर अच्छे अच्छे लोगों की बोलती बंद हो सकती है तो भला स्कूल में पढ़नेवाली लड़की हथियार के सामने कितना हल्ला कर सकती है। हालांकि अभी नए एसपी का योगदान किये सप्ताह भी नहीं बीता की अपराधियों ने स्कूल गेट पर से लड़की को अगवा कर पुरे पुलिस महकमे को चुनौती दे दी है। चोरी राहजनी और मनचलों की मटरगश्ती से परेशान सहरसा पुलिस के लिए स्कूली छात्रा का अपहरण एक नयी मुसीबत बन सकती है।