ईमानदार हाथों को मिले थानों का बागडोर – लवली आनंद

1479
पुलिस कप्तान से वार्ता करती पुर्व सांसद लवली आनंद
पुलिस कप्तान से वार्ता करती पुर्व सांसद
पुलिस कप्तान से वार्ता करती पुर्व सांसद

सहरसा- सहरसा की गिरती विधि से सवाल को लेकर पुर्व सांसद लवली आनंद ने सोमबार को सहरसा के नव पदस्थापित पुलिस कप्तान अश्वनी कुमार से मिल कर कही कि कोशी प्रमंडल मुख्यालय सहरसा आज अपराधियों और उग्रवादियों का सुरक्षित अभयारण बन गया है,आज के समय मे हत्या,अपहरण,रंगदारी,बलात्कार,अवैध कब्ज़ा,चोरी,डकैती रोजमर्रा की बात हो गई है | पुर्व सांसद श्री मति आनंद ने कहा की पैसे के बल पर आज अपराधी खुले आम घूम रहे है और निर्दोष सलाखों के पीछे भेजे जा रहे है | उन्होंने कहा की सहरसा की हालत ऐसी कभी नहीं था आज के समय मे हो गया है ,उन्होंने नव पदस्थापित पुलिस कप्तान को बधाई देते हुए कही की बिना किसी पूर्वाग्रह या पैरवी से दूर रहते हुए कानुन का राज बनाए रखने का प्रयास करने का आग्रह की | पुर्व सांसद ने कही की आप जिले के पुलिस कप्तान है आप अपने आँखों से देखे,कानो से सुने,और अपने विवेक से फैसला ले , समाजिक कार्यकर्ता होने के नाते उन्होंने सलाह देते कही की चुस्त-दुरुस्त और ईमानदार हाथों को थानों की बागडोर देने की बात कही | ऐसा करने से जरुर ही मौजुदा स्थिति को बदलते समय नहीं लगेगी | पुर्व सांसद के साथ युवा प्रदेश महासचिव (हम) राजन आनंद,सोनू कुमार सिंह,मुकुल सिंह,अनिल कुशवाहा,राजीव कुमार सहित फ्रेंड्स ऑफ़ आनंद के अन्य कार्यकर्ता भी थे |