गोली लगने से बच्ची ज़ख़्मी,मामला सदर थाना के डी०बी रोड का !

1302
गोली से घायल बच्ची अपनी माँ की गोद में ...

सहरसा-आज अहले सुबह अज्ञात अपराधियों के द्दारा की गयी गोली-बारी में आज महादलित परिवार की एक मासूम बच्ची को गर्दन में गोली लग गयी जिसे आनन्—फानन में सदर अस्पताल में भर्ती कराया गया । बच्ची की गर्दन से गोली निकाल दी गयी है लेकिन उसकी स्थिति नाजुक बनी हुयी है ।घटना को लेकर मिली जानकारी के अनुसार यह घटना पुरानी जमीनी विवाद को लेकर घटी है ।वैसे हद तो यह की गोली घर के ऊपरी चदरे को छेदती हुयी भीतर आई ।घटना सदर थाना से महज 300 मीटर की दुरी पर डीबी रोड की है ।फिलहाल पुलिस मामले की तफ्तीश में जुट चुकी है ।आखिर गोली कहाँ से,किसने और किस नीयत से चलाई, फिलवक्त यह मामला एक पहेली की तरह है ।लेकिन इस घटना ने इतना तो बता दिया है की अपराधियों  के सामने पुलिस ने पूरी तरह से अपने घुटने टेक दिए हैं ।महादलित परिवार की महज डेढ़ साल की नन्ही कुमारी जिसने अभी दुनिया में आकर ककहरा भी नहीं सीखा था,घायल बच्ची अपनी माँ की गोद में बेहोश पड़ी हुयी है ।उसकी गर्दन में गोली लगी थी,जिसे डॉक्टर ने निकाल दिया है ।गोली लगने से ज़ख़्मी हुई बच्ची की माँ पूजा कुमारी ने बताया की सुबह में वह अपनी बेटी के साथ सोई हुयी थी की अचानक ऊपर से एक गोली सनसनाती हुयी उसकी बेटी की गर्दन में आ लगी ।गोली किसने चलाई उसने नहीं देखा ।घर के लोगों के साथ वह अपनी खून से लथपथ जख्मी बेटी को लेकर तुरंत सदर अस्पताल भागी ।वही इस सन्दर्भ में सदर थानाध्यक्ष संजय कुमार सिंह ने कहा की उन्हें इस घटना को लेकर अस्पताल से गई ओडी स्लिप से जानकारी मिली । बच्ची को गोली लगी है और जख्मी के माता–पिता के बयान पर थाना में मामला दर्ज नुसंधान किया जा रहा है ।वैसे घटना में शामिल लोग किसी भी सूरत में बख्शे नहीं जाएंगे । थानाध्यक्ष खुद जख्मी के घर पहुंचकर जांच में जुट चुके हैं ।गोली कहाँ से कैसे चली |
मामले की वजह आखिर जो भी हो और घटना को अंजाम देने वाले शातिर से शातिर क्यों ना हो,बड़ा सवाल तो यह है की आखिर इस मासूम ने किसका क्या बिगाड़ा था ।इस घटना से पुरे इलाके में सनसनी और पुलिस के खिलाफ बेहद आक्रोश है ।जाहिर तौर पर इस मामले में बड़े अधिकारियों को हस्तक्षेप करते हुए दूध का दूध और पानी का पानी करना चाहिए ।