लॉ की परीक्षा पुनः लेने की मांग एन०एस०यु०आई ने किया !

762
परीक्षा नियंत्रक से वार्ता करते छात्र |

सहरसा- भुपेन्द्र नारायण मंडल विश्वविधालय मधेपुरा अंतर्गत चल रही स्नातक विधि के परीक्षाथियों ने मंगलवार को परीक्षा नियंत्रक से मिलकर गत 22 फरवरी को स्थगित पत्र की गई परीक्षा को पुन: आयोजित करने की मांग की।एनएसयूआई के प्रदेश महासचिव मनीष कुमार के नेतृत्व में परीक्षार्थियों ने कहा कि जन अधिकार पार्टी द्दारा आहुत बिहार बंद के कारण विश्वविधालय  ने बिना किसी  पूर्व सूचना के 20 फरवरी को होने वाली परीक्षा स्थगित कर दी। बिहार बंद होने के कारण परीक्षा केंद्र पर पहुचे परीक्षार्थी को  केन्द्र पर बताया गया कि आज की परीक्षा स्थगित कर दी गई है और इसकी परीक्षा बाद में परीक्षा के अंतिम पत्र 23 फरवरी को समापन के बाद इस स्थगित परीक्षा का आयोजन किया जाएगा। लेकिन अचानक 22 फरवरी को ही उक्त परीक्षा ले ली गई। इसके कारण सैकड़ों छात्र सूचना के अभाव में परीक्षा नहीं दे सके।

परीक्षा नियंत्रक से वार्ता करते छात्र
परीक्षा नियंत्रक से वार्ता करते छात्र

नियम के अनुसार 23 फरवरी को होने वाली परीक्षा के दौरान ही स्थगित परीक्षा की पुर्नपरीक्षा की तिथि घोषित किया जाना चाहिए ताकि सभी परीक्षार्थी को पता चल सके। लेकिन विश्वविद्यालय ने बीच में ही परीक्षा का आयोजन कर सैकड़ों छात्रों को परीक्षा से वंचित कर दिया। अतएव इस पत्र की पुर्नपरीक्षा ली जाय।

एन०एस०यु०आई के कार्यकर्ता सहित विश्वविधालय के पदाधिकारी
एन०एस०यु०आई के कार्यकर्ता सहित विश्वविधालय के पदाधिकारी

परीक्षा नियंत्रक डा. नवीन कुमार ने आश्वस्त किया कि कुलपति नहीं है। उनसे इस बाबत निर्देश लेकर इस बारे में कोई निर्णय लिया जा सकता है। इस शिष्ट मंडल में  अनुज कुमार निराला, मन्टु कुमार, राहुल सिंह, अमन कुमारी, अर्चना झा, रचना आदि सहित अन्य परीक्षार्थियों ने पुर्नपरीक्षा की शीघ्र मांग की।भूपेंद्र नारायण मंडल विश्वविद्यालय मधेपुरा मे सहरसा आर एम एम लाॅ कालेज के छुटे हुए छात्रो के परीक्षा पुनः लिए  जाने के मांग को लेकर एनएसयूआई द्दारा विश्वविधालय मे परीक्षा नियंत्रक का धेराव कर मांग रखा गया |