मानव के अधिकार के प्रति लोग संवेदनशील है :एस जलेजा

901
विशेष रिपोर्टयोर एस ० जलेजा के साथ जिले के पदाधिकारी

सहरसा-राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग की विशेष रिपोर्टयोर एस० जलेजा ने आज जिले के कई विधालयों,आंगनबाड़ी केन्द्रों,एवं पी०एच०सी० का निरक्षण का निरक्षण की और उसके बाद सहरसा परिसदन में जिले के पदाधिकारीयों के साथ बैठक कर गहन समीक्षा करते हुए मानव को मिलने वाले सुबिधाओ विशेष कर महिलाओ,बच्चों एवं अनुसूचित जातियो,जनजातियो,महादलितों को मिलने वाली सेवा को उपलब्ध करने सहित मानव जीवन को संरक्षित करने बाले नियमो सहित सरकार के दिशा निर्देशों के साथ सुप्रीमकोर्ट के आदेशो के अनुपालन का निर्देश जिले के आलाअधिकारियों को दिया |उन्होंने जनसंख्या नियंत्रण करने की दिशा में परिवार नियोजन को धरातल पर सही तरीके से चलाने,लोगो को स्वास्थ्य सुविधा मुहैया करना को कुपोषण से रक्षा करना आज की तिथि में चुनौती बन गया है,साथ ही उन्होंने कहा की एससी-एसटी अधिनियम,से जुड़े मामले,महादलितों को ज़मीन उपलब्ध करने,गरीबी उन्मूलन सहित अन्य योजनाओ को बेहतर तरीके से धरातल पर उतारते हुए बेरोजगारों को रोजगार मुहैया कराने में पदाधिकारी को रूचि लेने की बात कही| साथ ही स्वास्थ्य बिभाग ने खाली पड़े डॉक्टरों,नर्सो के पद को भरने के लिए सरकार को प्रस्ताव भेजने का निर्देश वरीय अधिकारियों को निर्देश दिया| इस बैठक में प्रभारी जिलाधिकारी उदय कृष्ण,पुलिस कप्तान बिनोद कुमार,उपविकाश आयुक्त दारोगा यादव,सिविल सर्जन डॉ०  अशोक कुमार सिंह,टीका प्रतिरक्षण पदाधिकारी संजय कुमार सिंह,जिला कल्याण पदाधिकारीआशुतोष शरण,जिला शिक्षा पदाधिकारी,जिला आपूर्ति पदाधिकारी,डीएम के ओ एस डी अनिल कुमार पाण्डेय,जिला सुचना जनसंपर्क पदाधिकारी बिन्दुसार मंडल सहित अन्य पदाधिकारी मौजूद थे | बाद में मानवाधिकार आयोग की विशेष रिपोर्टयोर एस० जलेजा सहरसा मंडल पहुँच कर जेल का भी  करीब घंटो भर निरक्षण की,हालाकि वे जेल की व्यवस्था पर असंतोष जताते हुए वहाँ स्त्री विशेषज्ञ,आंख सहित अन्य चिकित्सको को समय-समय पर भेज कर ईलाज कराने का निर्देश दिया,जेल निरक्षण के समय सहरसा पुलिस अधीक्षक बिनोद कुमार उनके साथ थे |