पंचायत चुनाव को ले सरगर्मिया तेज,सुशील मोदी ने सीएम को लिखा पत्र |

826

बिहार में पंचायत चुनाव नजदीक आते ही सूबे में राजनीतिक सरगर्मियां तेज हो गई है। इसी क्रम में पूर्व उपमुख्यमंत्री सुशील मोदी ने त्रिस्तरीय पंचायती राज व्यवस्था के विभिन्न एकल पदों मुखिया, प्रमुख, जिला परिषद अध्यक्ष आदि के निर्वाचन के लिए आरक्षण का कोटा अत्यंत पिछड़ा वर्ग के लिए 20 से बढ़ाकर 30 प्रतिशत एवं अनुसूचित जाति के लिए 16 से बढ़ाकर 19 प्रतिशत करने की मांग की है।पुर्व उप मुख्यमंत्री सुशील मोदी ने सीएम नितीश कुमार को पत्र लिखकर यह मांग की है कि बिहार में पंचायत चुनाव नजदीक है, अत: इन वर्गों के लिए आरक्षण के कोटे में बढ़ोतरी के लिए नियमों में आवश्यक संशोधन के लिए विधानमंडल का विशेष सत्र बुलाकर किया जाए। लिहाजा आरक्षण के लिए निर्धारित कोटे का बचा हुआ 13 प्रतिशत को अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति एवं अत्यंत पिछड़ा वर्ग के उम्मीदवारों के लिए आरक्षित किया जाना चाहिए। श्री मोदी ने कहा कि सर्वोच्च न्यायालय के निदेशानुसार 50 प्रतिशत पदों को आरक्षित किया जा सकता है। मोदी ने सीएम को लिखे पत्र में कहा है कि 2009 से वर्ष 2015 के बीच 17 जातियों व उपजातियों को जहां अत्यंत पिछड़ा वर्ग में तो वहीं कुछ जातियों व उपजातियों को अनुसूचित जाति की सूची में भी शामिल किया गया है।

स्रोत – टीवी न्यूज़